Latest news
NIT Sexual Harassment Case में प्रौफेसर डिसमिस : MBA की छात्रा ने कहा पेपर में पास करने की एवज में क... बाबा बलबीर सिंह को जत्थेदार घोषित करने वाला निहंग सिंह निकला सरकारी कर्मचारी, जल्द श्री अकाल तख्त पर... जालन्धऱ- स्कूल कीप्रार्थनासभा में गिरा छात्र, अस्पताल में हुई मौत NIA की बड़ी कार्रवाई, अमृतपाल सिंह से संबंधित 1.34 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त ! पंजाब रोडवेज कर्मियों को मिला दीवाली तोहफा हड़ताल खत्म, सरकार ने मानी यह मांग 30 हजार रिश्वत लेते वन विभाग का बड़ा अधिकारी काबू:पेड़ों की कटाई के बदले ठेकेदार से मांगा 35 हजार कमी... Punjab Police के निलंबित AIG मालविंदर की बढ़ी मुश्किले; जबरन वसूली, धोखाधड़ी और रिश्वत लेने का मामला ... जालंधर की 2 लड़कियों ने करवाई आपस में शादी : सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट पहुंची; खरड़ के गुरुद्वारा साहि... जांच में शामिल हुए नशा तस्करी केस में बर्खास्त एआईजी राजजीत, वकीलों संग पहुंचे एसटीएफ दफ्तर पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, दिवंगत शख्सियतों को दी गई श्रद्धांजलि, राज्यपाल ने कहा..

प्रताप बाग के नजदीक एक दुकान के नक्शे पर बनी तीन सैनिटरी की दुकानें, चौथी की तैयारी

  • टैक्निकल अधिकारी ने जारी किया नोटिस तो हुआ बड़ा खुलासा, अब कानूनी राय के बाद कारवाई तय!

अनिल वर्मा








प्रताप बाग के नजदीक बनी सैनिटरी की दुकानों पर निगम के टैक्निकली ड्राफ्ट्समैन का पेच फस गया है। दरअसल यह जमीन इंप्रवमैंट ट्रस्ट के नक्शे अनुसार खाली प्लाट है मगर इस प्लाट की अकाली नेता द्वारा रजिस्ट्री कर दी गई रजिस्ट्री के बाद 15 साल तक यह प्लाट खाली रहा जैसे ही 2017 में कांग्रेस की सरकार सत्ता में आई तो हल्के के दिग्गज कांग्रेसी नेता द्वारा दबाव वश इस प्लाट का नक्शा नगर निगम से 2019 में पास करवा लिया गया नक्शे अनुसार इस प्लाट में एक दुकान है और ऊपर रिहायश है। इस दुकान की एंट्री पाल अस्पताल वाली गली की ओर है। मगर नक्शे के विपरीत कंस्ट्रक्शन करने के चलते यहां पूर्व एटीपी रजिंदर शर्मा तीन बार डिच मशीन चला चुके हैं। अब उनसे इस सैक्टर का चार्ज वापिस लेकर ड्राफ्ट्समैन सुखदेव वशिष्ट को सौंपा गया है। नक्शे में जिस एरिया को खाली दर्शाया गया है वहां अब दोबारा कंस्ट्रक्शन शुरु हो गई है जिसका ड्राफ्ट्समैन सुखदेव वशिष्ट दो बार काम रुकवा चुके हैं मगर काम जारी रहा जिसके बाद उन्होने प्राप्टी मालिक को 6 सितंबर 2022 को नोटिस नंबर 1271 जारी कर ज्वाब मांगा।

जिसके बाद खुलासा हुआ कि यहां सिर्फ एक ही दुकान का नक्शा पास है और मौके पर तीन दुकाने मेन सड़क की ओर शटर लगाकर अलग अलग खोल दी गई है अब चौथी दुकान को खोलने की तैयारी चल रही है। जबकि सभी दुकानों की ऊपरी मंजिल को भी अलग अलग कर कारोबारी इस्तेमाल किया जा रहा है। यह नक्शे की वायलेशन है। विभाग अब इस मामले में सभी दुकानों को सील करने की तैयारी कर रहा है क्योंकि नक्शा नंबर 75 में सिर्फ एक दुकान ही पास है मगर मौके पर एक नक्शे के बूते गुरमीत ट्रेडिंग, राघव ट्रेडिंग तथा प्रकाश ट्रेडिंग नामक सैनिटरी की तीन दुकानें खोल ली गई है। मिली जानकारी अनुसार बीते दिनों यहां चौथी दुकान का लैंटर जो पूर्व एटीपी रजिंदर शर्मा ने डिच मशीन तथा लेबर से तुड़वाया था उसे दोबारा नया डाल लिया गया है और आगे एक पुराना गेट लगाया गया है जल्द ही यहां शटर लगाने की तैयारी है।

इस बाबत नगर निगम कमिशनर को जनहित सोसायटी की ओर से भी कई शिकायतें प्राप्त हुई है जिसमें यहां नक्शे अनुसार मेन सड़क की ओर शटर उतरवा कर दीवार करने की शिकायत दी गई है और ऊपरी मंजिल को सील करने के लिए कहा गया है क्योंकि यहां भी कारोबारी इस्तेमाल हो रहा है। विभाग के टैक्निकल अधिकारी यहां जल्द कारवाई करना चाहते हैं मगर एक दिग्गज कांग्रेसी नेता का दबाव अभी भी नगर निगम प्रशासन में बना हुआ है जिस कारण विभाग के अफसर कानूनी राय ले रहे हैं तांकि अगर आने वाले समय में मामला कोर्ट में जाता है तो विभाग के पास भी कोई दस्तावेज हो जिसे बाद में माननीय अदालत में पेश किया जाएगा।