Latest news
NIT Sexual Harassment Case में प्रौफेसर डिसमिस : MBA की छात्रा ने कहा पेपर में पास करने की एवज में क... बाबा बलबीर सिंह को जत्थेदार घोषित करने वाला निहंग सिंह निकला सरकारी कर्मचारी, जल्द श्री अकाल तख्त पर... जालन्धऱ- स्कूल कीप्रार्थनासभा में गिरा छात्र, अस्पताल में हुई मौत NIA की बड़ी कार्रवाई, अमृतपाल सिंह से संबंधित 1.34 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त ! पंजाब रोडवेज कर्मियों को मिला दीवाली तोहफा हड़ताल खत्म, सरकार ने मानी यह मांग 30 हजार रिश्वत लेते वन विभाग का बड़ा अधिकारी काबू:पेड़ों की कटाई के बदले ठेकेदार से मांगा 35 हजार कमी... Punjab Police के निलंबित AIG मालविंदर की बढ़ी मुश्किले; जबरन वसूली, धोखाधड़ी और रिश्वत लेने का मामला ... जालंधर की 2 लड़कियों ने करवाई आपस में शादी : सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट पहुंची; खरड़ के गुरुद्वारा साहि... जांच में शामिल हुए नशा तस्करी केस में बर्खास्त एआईजी राजजीत, वकीलों संग पहुंचे एसटीएफ दफ्तर पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, दिवंगत शख्सियतों को दी गई श्रद्धांजलि, राज्यपाल ने कहा..

innocent hearts में हॉलिस्टिक हेल्थ पर सेमिनार का आयोजन

रोज़ाना पोस्ट 








बौरी मेमोरियल एजुकेशनल एंड मेडिकल ट्रस्ट द्वारा संचालित दिशा-एक पहल के तहत इनोसेंट हाट्र्स ग्रीन मॉडल टाऊन में हॉलिस्टिक हेल्थ पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया,जो स्टाफ मेंबर्स व छात्रों के लिए था। इसका लाइव प्रसारण यूट्यूब पर भी किया गया। इसके रिसोर्स पर्सन श्रीमती वीना गुप्ता (हॉलिस्टिक हीलर, एनएलपी माइंड एंड वैलनेस कोच तथा स1सेस लीगेसी द्वारा ईसीएसएफ कोच से सर्टिफाइड) थीं।


उन्होंने इस बात पर बल दिया कि हॉलिस्टिक हेल्थ के लिए शारीरिक, मानसिक और सामाजिक रूप से फिट रहना ज़रूरी है । उन्होंने शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए साँस लेने की उचित प्रक्रिया का प्रदर्शन किया। उन्होंने पावर ऑफ वर्डस पर ज़ोर देते हुए कहा कि लेॅस, लॉस एंड नेवर श4दों के इस्तेमाल से बचें। उन्होंने कहा कि ये श4द चिंता और अवसाद का मूल कारण हैं। लव, गिव, ग्रोथ एंड लर्न, जीवन में सकारात्मकता लाते हैं। उनके द्वारा सराहना और कृतज्ञता के महत्व पर ध्यान केंद्रित किया गया। उन्होंने सभी को माइंड मैपिंग, विज़ुअलाइज़ेशन तथा पॉजिटिव एफर्मेशंस के लिए प्रेरित किया। उन्होंने भोजन करते समय सही परिवेश के चुनाव के महत्व को समझाया। उन्होंने कहा कि नई तकनीकों और गैजेट्स ने दुनिया को छोटा कर दिया है, लेकिन सामाजिक और व्यक्तिगत उत्थान के लिए हमारा समूह में रहना अनिवार्य है।

अंत में श्रीमती शैली बौरी, ( एग्ज़ी1यूटिव डायरे1टर स्कूलस) ने रिसोर्स पर्सन को स्मृति चिह्न देकर स6मानित किया। श्रीमती शर्मिला नाकरा (डिप्टी डायरे1टर कल्चरल अफेयर्स) ने सार्थक व सारगर्भित सत्र के लिए संसाधन व्यक्ति को धन्यवाद दिया।