Latest news
NIT Sexual Harassment Case में प्रौफेसर डिसमिस : MBA की छात्रा ने कहा पेपर में पास करने की एवज में क... बाबा बलबीर सिंह को जत्थेदार घोषित करने वाला निहंग सिंह निकला सरकारी कर्मचारी, जल्द श्री अकाल तख्त पर... जालन्धऱ- स्कूल कीप्रार्थनासभा में गिरा छात्र, अस्पताल में हुई मौत NIA की बड़ी कार्रवाई, अमृतपाल सिंह से संबंधित 1.34 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त ! पंजाब रोडवेज कर्मियों को मिला दीवाली तोहफा हड़ताल खत्म, सरकार ने मानी यह मांग 30 हजार रिश्वत लेते वन विभाग का बड़ा अधिकारी काबू:पेड़ों की कटाई के बदले ठेकेदार से मांगा 35 हजार कमी... Punjab Police के निलंबित AIG मालविंदर की बढ़ी मुश्किले; जबरन वसूली, धोखाधड़ी और रिश्वत लेने का मामला ... जालंधर की 2 लड़कियों ने करवाई आपस में शादी : सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट पहुंची; खरड़ के गुरुद्वारा साहि... जांच में शामिल हुए नशा तस्करी केस में बर्खास्त एआईजी राजजीत, वकीलों संग पहुंचे एसटीएफ दफ्तर पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, दिवंगत शख्सियतों को दी गई श्रद्धांजलि, राज्यपाल ने कहा..

पंजाब : बसपा का फर्जी प्रत्याशी गिरफ्तार , संगीन धाराओं के तहत दर्ज हुआ केस , पड़े पूरी खबर

रोज़ाना पोस्ट 








बसपा की टिकट पर नवांशहर विधानसभा क्षेत्र से दो प्रत्याशियों के नामांकन पर विवाद के बाद वीरवार देर रात दूसरे प्रत्याशी बरजिंदर सिंह हुसैनपुर को गिरफ्तार कर लिया गया। उन पर ठगी करने के आरोप के अलावा विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने रिटर्निंग अधिकारी बलजिंदर सिंह की शिकायत के बाद कार्रवाई की है। 2 फरवरी को बरजिंदर सिंह हुसैनपुर ने बसपा की ओर से नामांकन भरने के बाद खुद को असली प्रत्याशी बताया था जबकि प्रदेश पार्टी अध्यक्ष का दावा था कि बसपा ने नछत्तर पाल को प्रत्याशी घोषित किया है और वह पहले ही नामांकन कर चुके हैं। 

जांच के बाद वीरवार को रिटर्निंग अफसर बलजिदर सिंह ने नछत्तर पाल को बसपा का असली उम्मीदवार घोषित किया था। इसके बाद बरजिंदर सिंह हुसैनपुर पर कार्रवाई की गई है। बता दें कि बुधवार देर शाम बसपा सुप्रीमो मायावती ने रिटर्निंग अधिकारी से वाट्सएप पर वीडियो काल करके अपना पक्ष रखा गया। इससे पहले मायावती ने दो बार मेल भेजकर रिटर्निंग अफसर को बताया था कि नछत्तर पाल को ही पार्टी ने टिकट दिया है। बरजिंदर सिंह हुसैनपुर पार्टी का अधिकृत प्रत्याशी नहीं है। इधर, बसपा पंजाब प्रधान जसवीर सिंह गढ़ी का दावा था कि हुसैनपुर ने फर्जी दस्तावेज से नामांकन भरा है।