Latest news
NIT Sexual Harassment Case में प्रौफेसर डिसमिस : MBA की छात्रा ने कहा पेपर में पास करने की एवज में क... बाबा बलबीर सिंह को जत्थेदार घोषित करने वाला निहंग सिंह निकला सरकारी कर्मचारी, जल्द श्री अकाल तख्त पर... जालन्धऱ- स्कूल कीप्रार्थनासभा में गिरा छात्र, अस्पताल में हुई मौत NIA की बड़ी कार्रवाई, अमृतपाल सिंह से संबंधित 1.34 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त ! पंजाब रोडवेज कर्मियों को मिला दीवाली तोहफा हड़ताल खत्म, सरकार ने मानी यह मांग 30 हजार रिश्वत लेते वन विभाग का बड़ा अधिकारी काबू:पेड़ों की कटाई के बदले ठेकेदार से मांगा 35 हजार कमी... Punjab Police के निलंबित AIG मालविंदर की बढ़ी मुश्किले; जबरन वसूली, धोखाधड़ी और रिश्वत लेने का मामला ... जालंधर की 2 लड़कियों ने करवाई आपस में शादी : सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट पहुंची; खरड़ के गुरुद्वारा साहि... जांच में शामिल हुए नशा तस्करी केस में बर्खास्त एआईजी राजजीत, वकीलों संग पहुंचे एसटीएफ दफ्तर पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, दिवंगत शख्सियतों को दी गई श्रद्धांजलि, राज्यपाल ने कहा..

Parminder Hospital में दाखिल मरीज की ईलाज दौरान मौत, मृतक के परिवार वालों ने लगाए डा. पर गंभीर आरोप

जालन्धर- लंबा पिंड चौक के नजदीक स्थित Parminder Hospital परमिंदर हॉस्पिटल उस वक्त हंगामा हो गया जब वहां दाखिल मरीज की ईलाज दौरान मौत हो गई। मृतक की पहचान अमर सिंह वासी रेरू जालन्धर के रूप में हुई है।  मृतक के परिवारिक सदस्यों ने आरोप लगाते हुए कहा कि हॉस्पिटल में डॉक्टर की गैर मौजूदगी के कारण उनकी मरीज की मौत हुई है।  मृतक के परिवारिक सदस्यों ने बताया कि उन्होंने 4 दिन पहले अपने मरीज को अस्पताल में दाखिल करवाया था और दो दिन से डॉक्टर बिना बताए कहीं चले गए हालांकि जो काम डॉक्टर का था। वह काम अस्पताल में नर्स कर रही थी








जिसके चलते उनके मरीज की मौत सही ढंग से इलाज ना करने के कारण हुई। मृतक के परिवारिक सदस्यों ने आरोप लगाते हुए कहा कि मरीज की मौत के बाद जब उन्होंने अस्पताल स्टाफ की तरफ से उनके साथ बदतमीजी भी की गई और उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि स्टाफ मेंबर नशे की हालत में था, जिसकी संबंधी पुलिस को लिखित शिकायत दे दी मौके पर पहुंची पुलिस ने अस्पताल के स्टाफ मेंबर को अपने साथ ले गई और मामले की जांच में जुट गई।वहीं दूसरी तरफ अस्पताल की स्टाफ मेंबरों ने बताया कि उन्होंने मरीज के परिवार को बता दिया था कि डॉक्टर कहीं बाहर जा रहे है लेकिन पीड़ित परिवार की तरफ से कहा गया था कि वह कई सालों से इलाज इन्हीं डॉक्टर के पास करवा रही है और भी यही इलाज करवाएंगे और डॉक्टर के जाने के संबंध में उन्होंने सारी बात पीड़ित परिवार को बता दी थी।