Latest news
NIT Sexual Harassment Case में प्रौफेसर डिसमिस : MBA की छात्रा ने कहा पेपर में पास करने की एवज में क... बाबा बलबीर सिंह को जत्थेदार घोषित करने वाला निहंग सिंह निकला सरकारी कर्मचारी, जल्द श्री अकाल तख्त पर... जालन्धऱ- स्कूल कीप्रार्थनासभा में गिरा छात्र, अस्पताल में हुई मौत NIA की बड़ी कार्रवाई, अमृतपाल सिंह से संबंधित 1.34 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त ! पंजाब रोडवेज कर्मियों को मिला दीवाली तोहफा हड़ताल खत्म, सरकार ने मानी यह मांग 30 हजार रिश्वत लेते वन विभाग का बड़ा अधिकारी काबू:पेड़ों की कटाई के बदले ठेकेदार से मांगा 35 हजार कमी... Punjab Police के निलंबित AIG मालविंदर की बढ़ी मुश्किले; जबरन वसूली, धोखाधड़ी और रिश्वत लेने का मामला ... जालंधर की 2 लड़कियों ने करवाई आपस में शादी : सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट पहुंची; खरड़ के गुरुद्वारा साहि... जांच में शामिल हुए नशा तस्करी केस में बर्खास्त एआईजी राजजीत, वकीलों संग पहुंचे एसटीएफ दफ्तर पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, दिवंगत शख्सियतों को दी गई श्रद्धांजलि, राज्यपाल ने कहा..

अटारी बाजार से सटे रास्ता मुहल्ला, शाम गली और कश्मिरी गली में 35 रिहायशी मकान गिराकर बनाए जा रहे बड़े बड़े गोदाम, कमिशनर दविंदर सिंह के खिलाफ सीएमओ को शिकायत, पढ़े पूरा मामला

जालंधर अनिल वर्मा- अटारी बाजार से सटे मुहल्लों में इन दिनों तेजी से रिहायशी मकानों को गिराकर वहां बड़े बड़े कारोबारी गोदाम व शोरुम बनाए जा रहे हैं। मिली जानकारी अनुसार रास्ता मुहल्ला, कश्मिरी गली, शाम गली में इन करीब 30 -35  रिहायशी मकानों में यह कारवाई चल रही है जहां दिन रात धड़ाधड़ पुराने मकान गिराकर वहां शटरिंग कर नए लैंटर डाले जा रहे है।








इनमें ज्यादातर मकान डी नामक एक कारोबारी ने खरीदे हैं इन मकानों की खरीद से पहले बाजार की तरफ फ्रंट वाले हिस्से की एक मरले की दुकान खरीदी गई और पीछे कश्मिरी गली के 10 मकान खरीद उसे दुकान के साथ मिलाने के लिए धड़ाधड़ काम करवाया जा रहा है। इस मामले में शिकायतकर्ता ने कई बार कमिशनर, एमटीपी स्तर पर शिकायतें की मगर दो सप्ताह तक संबधित 9 नंबर सैक्टर के बिल्डिंग इंस्पकैटर तथा एटीपी ने इस शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया और सारा दिन दफ्तर में स्टाफ के साथ गप्पे मारने और चाय की चुस्कियां लेकर सरकार की आंखों में धूल झोंकी गई ।

अब इस मामले में निगम कमिशनर दविंदर सिंह के खिलाफ सीएमओ तक शिकायत भेजी गई है जिसमें आरोप लगाया गया है कि कमिशनर के लापरवाह रवैये के कारण बिल्डिंग विभाग का स्टाफ फील्ड में काम नहीं कर रहा और अवैध निर्माणों की कोई मोनिटरिंग नहीं की जा रही जिससे हररोज बन रही अनेक अवैध इमारतों से निगम का खजाना खाली हो रहा है। इसी तरह गुरुद्वारा पंज प्यारे के नजदीक रास्ता मुहल्ला तथा शाम गुली में भी पुराने मकान गिराकर खुल कर दर्जनों दुकानें बनाई जा रही है। जिसका काम अभी भी जारी है।

 

मेरे ध्यान में मामला अभी आया है टीम को भेज कर जांच करवाई जाएगी और अगर कोई बिना मंजूरी निर्माण किए जा रहे हैं तो उनके खिलाफ सख्त कारवाई की जाएगी। (शिखा भगत -ज्वाइंट कमिश्नर ,नगर निगम जालंधर )