Latest news
NIT Sexual Harassment Case में प्रौफेसर डिसमिस : MBA की छात्रा ने कहा पेपर में पास करने की एवज में क... बाबा बलबीर सिंह को जत्थेदार घोषित करने वाला निहंग सिंह निकला सरकारी कर्मचारी, जल्द श्री अकाल तख्त पर... जालन्धऱ- स्कूल कीप्रार्थनासभा में गिरा छात्र, अस्पताल में हुई मौत NIA की बड़ी कार्रवाई, अमृतपाल सिंह से संबंधित 1.34 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त ! पंजाब रोडवेज कर्मियों को मिला दीवाली तोहफा हड़ताल खत्म, सरकार ने मानी यह मांग 30 हजार रिश्वत लेते वन विभाग का बड़ा अधिकारी काबू:पेड़ों की कटाई के बदले ठेकेदार से मांगा 35 हजार कमी... Punjab Police के निलंबित AIG मालविंदर की बढ़ी मुश्किले; जबरन वसूली, धोखाधड़ी और रिश्वत लेने का मामला ... जालंधर की 2 लड़कियों ने करवाई आपस में शादी : सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट पहुंची; खरड़ के गुरुद्वारा साहि... जांच में शामिल हुए नशा तस्करी केस में बर्खास्त एआईजी राजजीत, वकीलों संग पहुंचे एसटीएफ दफ्तर पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, दिवंगत शख्सियतों को दी गई श्रद्धांजलि, राज्यपाल ने कहा..

फर्जी इमीग्रेशन अधिकारी बन जालन्धर के ट्रैवल एजैंट ने की लाखों की ठगी, पीड़ित लोगों ने की छित्तरपरेड,पढ़े पूरी खबर

रोज़ाना पोस्ट: जालन्धर में एक ट्रैवल एजैंट द्वारा खुद को इमीग्रेशन एजैंसी का अधिकारी बता लाखों रुपये ठगने वाले ट्रैवल एजैंट की लोगों ने जमकर छित्तरपेरड की। पीड़ित लोगों ने कहा कि उन्होने ठग ट्रैवल एजैंट गौरव को कैनेडा जाने के लिए दस्तावेज तथा लाखों रुपये दिए थे मगर एक साल बीत जाने के बाद अभी तक वीजा नहीं लगा और कई बार पैसे लौटाने का कहने पर भी गौरव ने पैसे नहीं लौटाए और अपना मोबाईल नंबर बंद कर दिया। गौरव के संपर्क में रहने वाले लोगों की मदद से पीड़ित लोग गौरव के घर पहुंच गए जहां एक फैमिली फंक्शन चल रहा था इसी दौरान पीड़ित लोगों ने ठग गौरव को पकड़कर छित्तरपरेड की और पैसे लौटाने के लिए कहा। हंगामे की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और आपस में लड़ रहे दोनो पक्षों को शांत करवाया। युवकों ने आरोप लगाया कि गौरव ने कनाडा भेजने के नाम पर उनके साथ लाखों रुपए की ठगी की है। ट्रैवल एजेंट ने कनाडा का वीजा लगवाने के नाम पर पैसे अपने और अपनी माता के खाते में डलवाए थे। जिसकी सारी डिटेल उनके पास है।








ठगी के आरोपी का फर्जी पहचान पत्र दिखाता युवक

ठगी का शिकार हुए युवकों ने अपने मोबाइल में गौरव का विजिटिंग कार्ड दिखाते हुए कहा कि ट्रैवल एजेंट अपने आप को कनाडा की ऐंबैसी का इमिग्रेशन अधिकारी बताता था। युवकों ने कहा कि ट्रैवल एजेंट गौरव ने उन्हें कहा था कि वह वीजा सेक्शन में ही काम करता है और उनके वीजा लगवाकर उन्हें कनाडा भिजवा देगा।

आपबीती सुनाते युवक

युवकों ने आरोप लगाया कि गौरव ने उनके साथ ठगी की है। कनाडा का वीजा लगवाने के नाम पर पैसे लेने के बाद उसने अपने फोन बंद कर लिए। ठग एजेंट ने 25 हजार, 50 हजार किश्तों में लेकर करीब दो-दो लाख रुपए तीन युवकों से अपने और अपनी माता के खाते में जमा करवाए थे। युवकों ने कहा कि पिछली क्रिसमस पर तथाकथित ट्रैवल एजेंट ने उन्हें वीजा का आश्वासन दिया था। वह पिछले एक साल से इसे ढूंढते आ रहे हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने युवकों से शिकायत लेकर मामले की जांच शुरु कर दी है। 

ठगी का शिकार हुए युवक मौके पर शिकायत लिखते हुए