Latest news
NIT Sexual Harassment Case में प्रौफेसर डिसमिस : MBA की छात्रा ने कहा पेपर में पास करने की एवज में क... बाबा बलबीर सिंह को जत्थेदार घोषित करने वाला निहंग सिंह निकला सरकारी कर्मचारी, जल्द श्री अकाल तख्त पर... जालन्धऱ- स्कूल कीप्रार्थनासभा में गिरा छात्र, अस्पताल में हुई मौत NIA की बड़ी कार्रवाई, अमृतपाल सिंह से संबंधित 1.34 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त ! पंजाब रोडवेज कर्मियों को मिला दीवाली तोहफा हड़ताल खत्म, सरकार ने मानी यह मांग 30 हजार रिश्वत लेते वन विभाग का बड़ा अधिकारी काबू:पेड़ों की कटाई के बदले ठेकेदार से मांगा 35 हजार कमी... Punjab Police के निलंबित AIG मालविंदर की बढ़ी मुश्किले; जबरन वसूली, धोखाधड़ी और रिश्वत लेने का मामला ... जालंधर की 2 लड़कियों ने करवाई आपस में शादी : सुरक्षा के लिए हाईकोर्ट पहुंची; खरड़ के गुरुद्वारा साहि... जांच में शामिल हुए नशा तस्करी केस में बर्खास्त एआईजी राजजीत, वकीलों संग पहुंचे एसटीएफ दफ्तर पंजाब विधानसभा का विशेष सत्र शुरू, दिवंगत शख्सियतों को दी गई श्रद्धांजलि, राज्यपाल ने कहा..

जालन्धरः कांग्रसियों की शह पर बनी सभी अवैध इमारतों की हिट लिस्ट तैयार,कर देररात वैस्ट तथा सैंट्रल हल्के में निगम की बड़ी कारवाई, कई अवैध इमारतें सील

अनिल वर्मा- नगर निगम की ज्वाईंट कमिशनर शिखा भगत  को बिल्डिंग विभाग के कमान सौंपने के बाद शहर में अवैध निर्माण करने वालों के नींद उड़ गई है। बिल्डिंग विभाग इन दिनों अवैध इमारतों को रात के समय सील कर रहा है तांकि राजनीतिक दबाव बिना कारवाई की जा सके। अवतार नगर के तहत बिना मंजूरी बनी इमारत में चल रहे सेखड़ी अस्पताल की बिल्डिंग को देररात सील किया गया है। इस बिल्डिंग के सील करने से पहले मालिकों को नोटिस भी भेजे गए थे, मगर जिस इमारत में अस्पताल चलाया जा रहा था उसका नक्शा पास नहीं था। यह अस्पताल कांग्रेसी नेता की शह पर बनाया गया था कई शिकायतें मिलने के बाद भी बिल्डिंग विभाग इस अस्पताल के खिलाफ कारवाई नहीं कर पाया। सत्ता परिवर्तन होने के बाद अब कांग्रेसियों की शह पर बनी अवैध इमारतें बिल्डिंग विभाग की हिट लिस्ट में आ चुकी है।








सीलंबदी का काम करते कर्मचारी

इसी तरह से मंडी रोड पर लक्ष्मी सिनेमा के पास नगर निगम की टीम ने एक गोदाम को भी सील किया है। माार्केट में बनाए गए गोदाम को भी तोड़फोड़ कर मॉडिफाई किया गया था। इसकी शिकायत नगर निगम में आई थी। निगम के अधिकारियों ने पहले शिकायत पर मौके का मुआयना करवाया। इसके बाद यह कन्फर्म होने पर कि नियमों का उल्लंघन किया गया है। इस पर देर रात सीलबंदी का कार्रवाई की गई है।

मंडी रोड पर गोदाम को सील करते बिल्डिंग ब्रांच के कर्मचारी

इसी तरह से नगर निगम के अधिकारियों ने जालंधर सेंट्रल से पूर्व विधायक राजिंदर बेरी के खासमखास पाली को भी अवैध रूप से रिहायशी भवन को कॉमर्शियल भवन में बदलने पर नोटिस जारी किया गया है। निगम के अधिकारियों ने बताया कि पाली ने 20 ओल्ड जवाहर नगर में रिहायशी भवन को पेइंग गेस्ट (पीजी) में बदल दिया है। वहां पर कॉमर्शियल गतिविधियां चलाई जा रही हैं। इसका नोटिस भेज कर उनसे जवाब मांगा गया है। यदि तय समय में जवाब ना मिला तो नगर निगम इस पीजी को सील कर बंद कर सकता है।