Latest news
जालन्धर नई वार्डबंदी पर सुनवाई आज, निगम पेश करेगा रिकार्ड, 119 आपत्तियाँ हुई थी दर्ज रियल एस्टेट कारोबार को एक ओर झटका, जिला जालन्धर में फिर रिवाईस हुए कलैक्टरेट लिद्दड़ा फ्लाईओवर के नीचे युवकों ने सरेआम की गुंडागर्दी, फायरिंग कर हुए फरार जालंधर-पठानकोट हाईवे पर फास्ट फूड शॉप में आग लगी , फर्नीचर-सामान सब जलकर राख पंजाब जल्द बनेगा औद्योगिक हब, केन्द्रिय मंत्री नितिन गडकरी तथा हरदीप पुरी के साथ सफल रही बैठकें- बलक... कब्जा छुड़ाने गए नगर निगम जालन्धर के जेई को बंधक बना पीटा, डिच मशीन की जब्त, मौके पर पुलिस ने पहुंच ... पूर्व विधायक बैंस के करीबी कंग पर FIR:स्क्रैप कारोबारी से करने आया था अवैध वसूली; पैसे न देने पर फाय... कटारूचक्क को बड़ी राहत, शिकायतकर्ता ने एससी कमिशनर लगाई गुहार, पढ़े पूरी खबर गुरुद्वारा शहीद बाबा निहाल सिंह की याद में 16 जून से 18 जून तक 72वें सालाना शहीदी जोड़ मेले का आयोजन... पंजाब सरकार ने 5 इम्प्रूवमेंट ट्रस्ट और 66 मार्केट कमेटियों के नए चेयरमैन किए नियुक्त, देखे सूचि

जालन्धर- इम्प्रूवमैंट ट्रस्ट प्लाट घोटाले के मास्टर माइंड अजय मल्होत्रा सहित जूनियर सहायक अनुज राय बहाल..

रोजाना पोस्ट- जालन्धर इंप्रूवमैंट ट्रस्ट की सूर्या एनक्लेव स्कीम के प्लाट आबंटन दौरान हुई गड़बड़ियों को दरकिनार कर मास्टर माइंड सीनियर सहायक अजय मल्हौत्रा सहित जूनियर सहायक अनुज राय को सरकार ने अंडर इंक्वायरी बहाल कर दिया है। यह आदेश लोकल बाडी मंत्री डॉ. इंद्रबीर सिंह निज्जर के आदेश के हवाले से इस बारे में आदेशपत्र चीफ सेक्रेटरी विवेक प्रताप सिंह ने जारी किया है। फिलहाल विभागीय विजिलेंस ने कई दूसरे प्लॉटों में जो गड़बड़ी के बारे में जो रिपोर्ट तैयार की थी, उसके बाद की इनक्वायरी फिलहाल लंबित है।





लोकल बॉडीज विभाग के चीफ सेक्रेटरी ने बहाली को लेकर 24 मार्च को लेटर जारी किया, जिसमें 11 मई 2022 को दोनों उक्त मुलाजिमों की दोबारा बहाली का जिक्र है। लगभग एक साल पूरा होने वाला है, लेकिन अभी तक प्लॉटों की अलॉटमेंट में पाई गड़बड़ियों की इनक्वायरी पर ही फैसला नहीं आ सका है।जो रिकार्ड पंजाब पुलिस की विजिलेंस ने लिया था, वो भी लंबित है। इस बीच जालंधर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के उच्चाधिकारियों ने स्टाफ की भारी कमी का मुद्दा सरकार में रखा था।

इसके बाद लोकल बॉडीज मंत्री डॉ. इंद्रबीर सिंह निज्जर ने जांच जारी रखने व इस दौरान मुलाजिमों की बहाली के आदेश दिए हैं। इससे पहले एक अन्य क्लेरिकल स्टाफर को भी मुअत्तल किया गया था। इसके बाद कुल 3 पद खाली हो गए।वहीं, जालंधर में दो साल के पक्के कार्यकारी अधिकारी की भी तैनाती नहीं हो सकी है। जालंधर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट में अतिरिक्त प्रभार के तहत तैनात किए गए राजेश चौधरी हफ्ते में 2 से 3 दिन की पब्लिक डीलिंग कर पाते हैं। इससे काम भी प्रभावित होता है।