इनोसैंट हाट्र्स ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंन के मैडीकल लैब साईंस विभाग द्वारा ‘स्ट्रेस मैनेजमैंट इन कोविड-19’ विषय पर वैबीनार का आयोजन किया

इनोसैंट हाट्र्स ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के मैडीकल लैब साईंस विभाग द्वारा महामारी के दौरान छात्रों के बीच सकारात्मक दृष्टिकोण विकसित करने के लिए, गूगल मीट के माध्यम से ‘स्ट्रेस मैनेजमैंट’ विषय पर वैबीनार का आयोजन किया गया। वैबीनार के अतिथि वक्ता डा. दीपाली गुल (एसोसिएट प्रोफैसर, मनोरोग विभाग, पिम्स, जालन्धर) रही।

राजवीर कौर (असिस्टेंट प्रोफैसर, एमएलएस विभाग) ने मुख्य नोट प्रस्तुत किया और अतिथि वक्ता का स्वागत किया। डा. दीपाली गुल ने कहा कि कोविड-१९ के कारण भावनात्मक और मानसिक तनाव से निपटने के लिए स्ट्रेस मैनेजमैंट आवश्यक है। तनाव को प्रतिबंधित करने के लिए डिजिटल युग के कई तरीके उपलब्ध हैं। छात्रों को अपने ज्ञान के आधार को बढ़ाने तथा तनाव से छुटकारा पाने के लिए स्वयं को इनडोर गेम्स, लर्निंग क्रियाएं, शारीरिक व्यायाम और मैडिटेशन में संलग्र करना चाहिए। उन्होंने छात्रों को सकारात्मक, सहनीय और विषाक्त तनाव के स्तर के बारे में जानकारी दी। डा. दीपाली ने छात्रों को मानव शरीर पर तनाव के दुष्प्रभावों से भी अवगत कराया और उन्हें आत्म-चर्चा के लिए प्रेरित किया ताकि वे जीवन की कठिनाइयों का सामना करने में अधिक कुशल बन सकें। इस इंटरैक्टिव लाइव सत्र ने प्रतिभागियों को जीवन के प्रति आशावादी दृष्टिकोण रखने के लिए तैयार किया।

अंत में, निधि शर्मा (एचओडी, मैडीकल लैब साईंस विभाग) ने डा. दीपाली गुल का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति को मनोवैज्ञानिक और शारीरिक कल्याण के लिए सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाना होगा।