गुस्साए कैप्टन की अब सिद्धू के मंत्री पद पर नजर, बड़ा फैंसला लेने की तैयारी.


पंजाब [रोजाना पोस्ट]
चुनाव प्रचार दौरान पंजाब के निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बिगड़े बोल ने उन्हे कैप्टन अमरेंद्र के गुस्से का ग्रास बना दिया है। इस बार कैप्टन अमरेन्द्र सिंह नवजोत सिंह सिद्धू को माफ करने के मूड़ में दिखाई नहीं दे रहे। वहीं कांग्रेस की पंजाब प्रभारी आशा कुमारी ने नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ अपनी रिपोर्ट हाईकमान को भेज दी है।


आशा कुमारी का कहना है सिद्धू के खिलाफ कई शिकायतें आई जिससे पार्टी की मर्यादा को ठेस पहुंची और चुनावों दौरान पार्टी को नुक्सान हुआ। इसी बीच सिद्धू ने चुनाव प्रचार के आखिर दिन 17 मई को एक ओर विवादित ब्यान दे दिया जिसमें उन्होंने जनता से अपील की कि मिल बांट कर खाने वालों को ठोक दो। उनका इशारा कैप्टन अमरेन्द्र सिंह तथा सुखबीर बादल की ओर था।


वहीं कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा कि सिर्फ सिद्धू के खिलाफ ही नहीं बल्कि शमशेर सिंह दूलो तथा प्रताप सिंह बाजवा के खिलाफ भी पार्टी को कड़ा नोटिस लेना चाहिए।


सूत्रों अनुसार पंजाब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह 23 मई के बाद पंजाब कैबिनेट में बदलाव कर सकते हैं जिसमें खासतौर पर नवजोत सिंह सिद्धू के हाथ से निकाय मंत्री का पद छीना जा सकता है। बहरहाल अभी इसी बात की चर्चा है कि कैप्टन इस बार सिद्धू को कड़ा सबक सिखाने की तैयारी में हैं।