टिंकू हत्याकांड में सुरिंदर मुत्ती गिरफ्तार, मर्डर से पहले इस ने की थी रेकी

जालंधर (रोजाना पोस्ट)

प्रीतनगर सोढल रोड में 6 मार्च को कारोबारी गुरमीत सिंह टिंकू की गोलियां मारकर हत्या की गई थी। गोली कांड में शामिल लिप्त 24 साल के सराभा नगर के रहने वाले सुरिंदर मुत्ती को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं। जानकारी अनुसार मुत्ती को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत जेल में भेज दिया गए हैं। इससे पहले साजिशकर्ता हैप्पी मल्ल और मर्डर में लिप्त सुरिंदर गुल्ली को पकड़ कर पुलिस जेल भेज चुकी हैं। एसआईटी के सामने मुत्ती ने माना कि लल्ली उसका रिश्तेदार हैं और उसी के कहने पर उसने 3 दिन रेकी की थी। साजिशकर्ता मुत्ती ने कहा कि कौंसलर दीपक शारदा भी मेरे और लल्ली के रिश्तेदार हैं।

 

 

आरोपी ने कहा कि कत्ल से कुछ दिन पहले उसे लल्ली ने कहा कि टिंकू की रेकी करनी हैं। कि वह कब अपने दफ्तर में आता हैं। मुत्ती लगातार दो दिन रेकी करता रहा और लल्ली को सारी रिपोर्ट देता रहा। लल्ली ने कत्ल की साजिश पहले ही रर्च ली थी। लल्ली ने कहा कि उसके दोस्त बाहर से आ गए हैं टिंकू को सबक सिखाना हैं। 6 मार्च दोपाहर को टिंकू को गोली मार के उसका कत्ल कर दिया। लल्ली ने कहा कि कत्ल के लिए इतने दिन रेकी की गई थी। मुत्ती ने कहा कि वह डर गया तो इस लिए लुधियाना चला गया था। बता दे कि टिंकू कत्ल केस में पुलिस लल्ली,पुनीत के साथ-साथ शूटर हैप्पी भुल्लर और जीती की तलाश कर रही हैं।

 

 

पुलिस की शुरुआती जांच में मुत्ती जांच के दायरे में आ चुका था। क्योंकि क्राइम सीन के पास और एरिया में कुछ सीसीटीवी फुटेज में मुत्ती नजर आया था। एसआईटी ने लल्ली और टिंकू से जुड़े लोग जांच के दायरे में लेकर उनके मोबाइल की कॉल डिटेल से लेकर टावर लोकेशन की जांच की थी। तीन दिन तक क्राइम सीन वाले एरिया में मुत्ती की मोबाइल लोकेशन आई थी, मगर पुलिस हैरान थी कि उसने सीधी कॉल किसी को नहीं की थी। पुलिस मानकर चल रही थी कि मुत्ती सोशल मीडिया के जरिये कॉल कर रहा था। डीसीपी गुरमीत सिंह ने कहा कि फोकल पोइंट एरिया से थाना-8 के एसएचओ रविंदर कुमार ने अपनी टीम के साथ मिलकर पकड़ा है। उससे रेकी में प्रयुक्त बाइक बरामद और स्मार्ट फोन बरामद किया गया है। डीसीपी ने कहा कि केस से जुड़े हर पहलू पर एसआईटी गहराई से जांच कर रही है।

 

Surinder Mutti arrested in Tinku murder case, he did recce before the murder