Latest news

सिद्धू अब दिल्ली रहे या कोलकत्ता हमे कोई फर्क नहीं पड़ता- मनीष तिवारी



कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात के बाद कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के तेवर अब ढी़ले पड़ते दिख रहे हैं। मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह से विवाद में पड़े सिद्धू राहुल और प्रियंका से भेंट के बाद शांत पड़‍े हैं। उन्होंने अपना विभाग बदले जाने के बाद पिछले दो दिनों में अपना कार्यभार तो नहीं संभाला है, लेकिन वह आज कार्यभार संभाल सकते हैं। दूसरी ओर, सीनियर कांग्रेस नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी ने सिद्धू की राहुल गांधी से मुलाकात पर बड़ी बात कह दी है। उन्‍होंने कहा कि सिद्धू ने पार्टी को नुकसान पहुंचाया है। अब वह दिल्‍ली जाएं या कोलकाता कोई फर्क नहीं पड़ता।

 

कैप्टन से नराजगी के चलते सिद्धू ने मंगलवार को भी बिजली विभाग की जिम्मेदारी नहीं संभाली। सचिवालय में सबकी नजरें पांचवें फ्लोर पर सिद्धू के कार्यालय की ही तरफ है। कांग्रेस सरकार को इस बात की चिंता भी है कि 13 जून से धान की रोपाई का सीजन शुरू हो रहा है, लेकिन सिद्धू ने विभाग की जिम्मेदारी नहीं संभाली। दूसरी तरफ रोपाई को लेकर मुख्यमंत्री पहले ही निर्विघ्न आठ घंटे बिजली देने की घोषणा कर चुके हैं।

धान का सीजन इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि किसानों को आठ घंटे बिजली की आवश्यकता होती है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह आठ घंटे बिजली देने की घोषणा कर चुके हैं। उस कारण चर्चा थी की अगर सिद्धू महकमे की जिम्मेदारी नहीं संभालते है तो एक नया विवाद खड़ा हो सकता है क्योंकि पहले भी सिद्धू कांग्रेस    विधायक दल की बैठक और कैबिनेट बैठक से गायब रहे थे।

Sidhu is no longer Delhi or Kolkata does not matter – Manish Tewari