Seema Arts ने फिर किया नगर निगम की पार्किंग पर अवैध कब्जा, खोली वर्कशाप..

  • शहर मेंं धड़ल्ले से घुमाई जा रही मोबाईल वैन, वर्कशाप में बनाए जा रहे अवैध बैरीकेट
  • मामला संगीन जल्दी होगी कारवाई- सहायक कमिशनर

 

जालन्धर अनिल वर्मा
पूरे शहर में कब्जे हटाने का काम करने वाली तहबाजारी शाखा खुद अपने ही दफ्तर का कब्जा खाली नहीं करवा पा रही है। निगम के मुख्य दफ्तर की बैकसाईड में बने पार्किग के रैंप पर सीमा आर्ट की ओर से कब्जा करके अपनी निजी वर्कशाप चलाई जा रही है। इस मामले में बीते दो साल पहले भी तहबाजारी शाखा के सुपरीडैंट मनदीप सिंह तथा इंस्पैक्टर जरनैल सिंह ने यहां कब्जा खाली करवा कर सीमा आर्ट को चेतावनी नोटिस जारी किया था मगर कुछ देर बाद फिर सीमा आर्ट ने यहां दोबारा कब्जा कर लिया।

मिली जानकारी के अनुसार यह कब्जा एक एमएलए की शह पर करवाया गया है और एमएलए तथा निगम के कई अधिकारियों को ओबलाईज करने के लिए कई धार्मिक आयोजनों में मुफ्त फ्लैक्स बोर्ड भी लगाए जाते हैं। तांकि बेसमैंट में चलाई जा रही वर्कशाप को चालू रखा जा सके। कानूनन किसी भी सरकारी प्राप्टी पर कब्जा नहीं किया जा सक ता ऐसा करने वाले के खिलाफ आईपीसी की धारा 447, 451 तथा 34 के तहत मामला दर्ज किया जा सकता है।

बता दें कि सीमा आर्ट की ओर से टाटा ACE नंबर PB 06  Q 7833 को मोडीफाई करके मूविंग डिस्पले वैन तैयार की गई है जिसे शहर में बिना परमिशन घुमाया जाता है। मोटर व्हीकल एक्ट के अनुसार किसी भी कमर्शियल वाहन को मोडीफाई करके नहीं चलाया जा सकता इसके लिए पहले मोटर व्हीकल इंस्पैक्टर से वाहन की पासिंग करवानी जरुरी होती है। एडर्वटाईजमैंट बाईलाज 2018 के अनुसार किसी भी वाहन पर विज्ञापन लगाकर शहर में नहीं घुमाया जा सकता। निगम के पूर्व ज्वाईंट कमिशनर जयइंदर द्वारा ऐसे अवैध वाहनों को जब्त करने तथा 50 हजार रुपये जुर्माना लगाने की मुहिम चलाई गई थी मगर उनके जाते ही कई वैंडरों ने दोबारा शहर में मोबाईल वैन घुमानी शुरु कर दी है। जानकारी अनुसार इन वैनों में जीएस हांडा, जैरथ पाथ लैब, ट्रैवल एजैंट तथा बैटरियों की एड लगाई जा रही है।

मोबाईल वैन का मामला अभी सामने आया है। इसकी जांच करवाई जाएगी और मौके पर ऐसी मोबाईल वैनों को जब्त करने तथा जुर्माना वसूलने की मुहिम दोबारा शुरु की जाएगी।
सुखजिंदर सिंह सिद्धू, सहायक कमिशनर नगर निगम जालन्धर

बिल्डिंग में कब्जा करने वाले के खिलाफ सख्त कारवाई की जाएगी-मनदीप सिंह मिट्ठू