पंजाब : बिजली समझौते हो सकते हैं रद्द, जाखड़ आज दिखाएंगे सीएम को नया प्लान

पंजाब में निजी थर्मल प्लांटों के मामले में बेशक यह समझौते पिछली सरकार द्वारा किए गए हों, लेकिन इनका खामियाजा मौजूदा सरकार को भी भुगतना पड़ रहा है। सरकारी खजाने को लगने का करोड़ों रुपये का चूना हो। इन सब मामलों को लेकर मंगलवार को पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष सुनील जाखड़ और पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच एक मीटिंग होगी। यह मीटिंग जाखड़ ने तय की है। ताकि सीएम से इन बिजली समझौतों को लेकर बात की जाए और किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकें। इस मीटिंग में इन बिजली समझौतों और इससे होने वाले प्रदूषण से परेशान लोगों की आवाज उठाई जाएगी। 

फाइल फोटा।

सुनील जाखड़ की आज सीएम से मुलाकात होनी है। जाखड़ तलवंडी साबो के अपने दौरे का विस्तृत ब्यौरा सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के सामने रखेंगे। दौरे के दौरान जाखड़ ने बहुत से लोगों से मुलाकात की थी। वे लोग वे थे जो थर्मल प्लांट की राख के कारण बीमार हो रहे हैं। जाखड़ बताएंगे कि कैसे थर्मल प्लांट की राख लोग बेबस किए हुए है। क्षेत्र में बीमारियां बढ़ नहीं हैं। यहां तक कि जानवर भी उसके प्रभाव में हैं, क्योंकि उनके चारे में भी थर्मल की राख मिल रही है। वे सीएम से मांग करेंगे कि प्रदूषण नियंत्रण को लेकर राज्य में निजी थर्मल प्लांट्स पर दो साल के लिए रोक लगाई जाए ताकि लोगों में बढ़ती बीमारियों को रोका जा सके। इसके साथ ही वे विभिन्न कंपनियों से किए बिजली समझौतों को भी तुरंत प्रभाव से रद्द किया जाए। इससे पंजाब के लोगों पर अतिरिक्त बोझ बढ़ रहा है।