आढ़ती ने सुसाइड से पहले चाचा से मांगी अनजान गलती की माफी, बेटी से की घर संभालने की गुजारिश


लुधियाना. यहां माछीवाड़ा साहिब में एक आढ़ती ने कारोबार में घाटे से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। मरने से पहले उसने अपने चाचा और बेटी को फोन किए। चाचा से जाने-अनजाने हुई गलती के लिए माफी मांगी और बेटी को घर संभालने के लिए कहा। इसके बाद खुद को गोली मार ली। आढ़ती काफी दिनों से किसी से खुलकर बात नहीं कर रहा था।

मृतक की पहचान आढ़ती नरेश कुमार रेहल के रूप में हुई है। माछीवाड़ा में मेन चौक पर उसका बर्फ का कारखाना भी था। मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि कारोबार में घाटे के चलते नरेश काफी दिनों से मानसिक दबाव में था।

नरेश की पत्नी का कहना है कि सोमवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे वह घर पर ही थी। अचानक पास के कमरे से गोली चलने की आवाज आई तो वह दौड़कर वहां पहुंची। पड़ोसियों की मदद से खून से लथपथ नरेश कुमार को पत्नी ने अस्पताल पहुंचाया। वहां पहुंचते ही डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने आत्महत्या के पीछे की वजह खोजने के लिए कोशिशें शुरू की।

पुलिस के मुताबिक कॉल डिटेल खंगालने और परिजनों से बात करने पर पता चला है कि नरेश रेहल ने पहले अपनी बेटी को फोन करके मन नहीं लगने की बात कही। फिर उसे घर संभालने के लिए कहकर फोन काट दिया। इसके बाद उसने अपने चाचा ठेकेदार कमलजीत को फोन करके कहा कि जाने-अनजाने कभी कोई गलती हो गई हो तो उसे माफ कर दें। इससे पहले कि कोई माजरा समझ में आता उसकी मौत की खबर पहुंची।

बहरहाल पुलिस का कहना है कि मौके से कोई सुसाइड नोट वगैरह भी नहीं मिला है, वहीं परिजनों का कहना है कि कारोबार में घाटे के चलते वह मानसिक दबाव में था। इसी के चलते उसने ऐसा कदम उठाया है।

Source link