विद्यार्थियों को खेलो से जोड़ने के लिए बनाये जा रहे है खेल मैदान स्मार्ट

  • अब ब्लॉक स्तर पर होगी खेल और खिलाड़ियों की पहचान

खेलों को प्रोत्साहित करने व जमीनी स्तर पर खिलाड़ियों की पहचान करने के मकसद से शिक्षा विभाग स्कूलों के खेल मैदान स्मार्ट बना रहा है। अब तक 100 से ज्यादा स्कूलों के मैदानों स्मार्ट बनाया जा चुका है। शेष की तैयारियां की जा रही है। पिछले वर्ष विद्यार्थियों को खेलों के साथ जोड़ने के लिए विभाग ने डिस्ट्रिक मेंटोर नियुक्त किए थे। इनकी स्कूलों के मैदान स्मार्ट बनाने और स्टूडेंट्स को खेलों के साथ जोड़ने की जिम्मेदारी दी गई थी। अब शिक्षा विभाग ने डिस्ट्रिक मेंटोर के साथ-साथ जिले के आठ ब्लॉक में ब्लॉक मेंटोर (बीएम) नियुक्त किए हैं। बीएम की जिम्मेवारी होगी कि स्कूलों के मैदानों का निरीक्षण करेंगे व विद्यार्थियों को खेलों के साथ जोड़ेंगे। बीएम को यह जानकारी डिस्ट्रिक मेनटोर को देनी होगी। बीएम रोजाना स्कूल के मैदानों का निरीक्षण कर रहे है। स्मार्ट मैदान बनाने के लिए रिपोर्ट भी तैयार कर रहे हैं। शिक्षा विभाग के अनुसार पंजाब में 2653 मिडिल स्कूल हैं, जिसमें से 2199 स्कूलों में खेल मैदान हैं। 1734 हाई स्कूलों में से 1505 में खेल मैदान हैं। इसी तरह, 1904 सीनियर सेकेंडरी स्कूलों में से 1717 में मैदान हैं। जालंधर में 164 मिडिल स्कूलों में से 119 में खेल मैदान है। वहीं, 121 हाई स्कूलों में से 96 में मैदान हैं। 152 सीनियर सेकेंडरी स्कूलों में से 128 में मैदान हैं। 

सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल लम्मा पिंड के विकास चड्डा, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल कादियांवाली के विक्रम मल्होत्रा, सरकारी कन्या सीनियर सेकेंडरी स्कूल गांधी नवगर के जतिंदर कुमार, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल पंचरंगा के हलजिंदर सिंह, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल के समराए जंडियाला के जसपाल सिंह, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल नूरमहल के राहुल शर्मा, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल पुनियां के भूपिंदर सिंह, सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल भुल्लर के नरिंदर कुमार को नियुक्त किया गया है।

 

बीएम की जिम्मेवारी स्कूलों में फिटनेस ट्रेनिंग प्रोग्राम, खेल मैदान तैयार करवाने, अंतर हाउस मुकाबले, एथलेटिक्स मीट, खेल दिवस, आर्मी की भर्ती को लेकर ट्रेनिंग, खेल ट्रेनिंग, स्पोर्ट्स रूम की तैयारी करवानी होगी।

 

जालंधर में डिस्ट्रिक मेंटोर इकबाल सिंह रंधावा।

इधर, डिस्ट्रिक मेंटोर इकबाल सिंह रंधावा ने कहा कि शिक्षा विभाग की ओर ब्लॉक स्तर पर ब्लॉक मेंटोर नियुक्त किए गए हैं। बीएम पर स्कूल मैदानों का निरीक्षण करने के साथ-साथ खेल गतिविधियां करवाने की जिम्मेवारी होगी। वे ग्रास रूट खिलाड़ियों को ढूंढ़ने में मदद करेंगे। रिपोर्ट तैयार करके डिस्ट्रिक मेंटोर को देंगे।