कैबिनेट मंत्री परगट सिंह पहुंचे जालन्धर, सियासी सवालों से बनाई दूरी कहा ‘‘दो दिनों में सब कुछ ठीक हो जाएगा’’

अनिल वर्मा
केबिनेट मंत्री बनने के बाद आज पहली बार परगट सिंह जालन्धर सर्किट हाउस पहुंचे जहां उन्हे पुलिस की ओर से सलामी दी गई। बाद में परगट सिंह प्रैस कांफंै्रस करने के लिए हाल में पहुंचे मगर सियासी सवालों से बचते रहे। पंजाब कांग्रेस में चल रही कलह पर परगट सिंह ने स्थिति स्पष्ट करने के लिए दो दिनों का समय मांगा है उनका कहना है कि दो दिनों के अंदर नवजोत सिद्धू की नाराजगी दूर कर दी जाएगी जिसके लिए सीएम चन्नी खुद नवजोत सिंह सिद्धू के साथ बातचीत कर चुके हैं।


वहीं परगट सिंह ने कहा कि पंजाब सरकार की ओर से उन्हे पहली बार केबिनेट रैंक दिया गया है जिसमें उच्च शिक्षा, एनआरआई मामले तथा खेल मंत्रालय हैं। इनमें अभी काफी सुधार करने बाकी है। पंजाब से हर साल युवा विदेश जा रहे हैं जिससे करोड़ों रुपयों के साथ साथ पंजाब की तरक्की से जुड़े नौजवान को पंजाब में शिक्षा के बेहतर अवसर देना बड़ी चुनौती होगी। परगट सिंह ने कहा कि पंजाब जहां खेती मामलों में अग्रसर था वहीं खेल कूद के मामले में भी देश में पहले स्थान पर था।

पंजाब सरकार ने उन्हे पंजाब को खेल कूद में दोबारा पहले स्थान पर लाने का अवसर दिया है जिसके लिए काम शुरु कर दिया गया है। परगट सिंह ने कहा कि वह खिलाड़ियों को पेश आने वाली लगभग सारी परेशानियों से अवगत हैं क्योंकि वह खुद हाकी के कप्तान रह चुके हैं। मेरे केबिनेट मंत्री बनने से कई खिलाड़ियों के दिलों में एक बार फिर मैदान में उतरने की उम्मीद पैदा हुई है जिसे कभी टूटने नहीं दिया जाएगा।