MLA बेरी बताएं कि गुरु गोबिंद सिंह एवन्यू में कौन गरीब है जिनके लिए सरकारी राशन डंप किया गया था-अनिल सच्चर

अमरीक नगर, उपकार नगर, अजीत नगर तथा काजी मंडी जैसे स्लम इलाकों में क्यों नहीं बांटा  गया राशन ..?
अनिल वर्मा
गुरु गोबिंद सिंह एवन्यू में पकड़े गए सरकारी राशन के विवाद में अभी भी कांग्रेसी विधायक राजिन्द्र बेरी की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। आज सीनियर भाजपा नेता अनिल सच्चर ने विधायक बेरी को सवालों में घेरते हुए आरोप लगाया कि बेरी बताएं कि जिस इलाके में सरकारी राशन को डंप किया गया था उस इलाके में आखिर कौन गरीब है जबकि उस इलाके में रहने वाले सभी लोग कारोबारी या सरकारी नौकरी वाले हैं तथा हर घर में दो से अधिक वाहन हैं तो बेरी उस इलाके में कौन से गरीबों को राशन बांटने की बात कर रहे हैं। जबकि अमरीक नगर, उपकार नगर, अजीत नगर तथा काजी मंडी जैसे स्लम इलाकों में रहने वाले गरीबों में एक बार भी राशन नहीं बांटा गया। श्री अनिल सच्चर ने आरोप लगाया कि फूड सेफटी विभाग की मिलीभगत के चलते अभी भी रामामंडी, दकोहा, सुच्ची पिंड जैसे कई इलाकों में कांग्रेसी नेताओं के घरों तथा गोदामों में राशन छुपा कर रखा गया है।

 

श्री अनिल सच्चर ने कहा कि उनके द्वारा अप्रैल महीने में ही इसका खुलासा कर दिया गया था तथा जिला प्रशासन को इस मामले में कारवाई करने के लिए कहा गया था मगर इस मामले में जिला प्रशासन ने समय रहते कोई एक्शन नहीं लिया जिसके बाद जालन्धर से लाखों लेबर क्लास लोग पलायन कर गए। श्री सच्चर ने आरोप लगाया कि अभी भी रामा मंडी, सुच्ची पिंड, दकोहा आदि में कागं्रेसियों के घरों तथा गोदामों में सरकारी राशन डंप किया हुआ है जिसे अभी भी जिला प्रशासन अपने कब्जे में नहीं ले रहा।

 

बतां दें कि गुरु गोंिबंद सिंह एवन्यू तथा सैंट्रल टाऊन जैसे शहर के पॉश इलाकों में पकड़़े गए सरकारी राशन के बाद अभी तक जो तर्क विधायक राजिंदर बेरी द्वारा मीडिया समक्ष रखे जा रहे हैं वे न तो जनता को हजम हो रहे हैं और न ही विपक्षी दल भाजपा को। उल्टा इस मुद्दे के बाद पिछले लंबे समय से शांत रही भाजपा के कार्यकर्ता दिन ब दिन एक्टिव होते जा रहे है जिससे आने वाले दिनों में कांग्रेसिओं की मुश्किलें बढऩे के आसार साफ दिखाई दे रहे हैं।