स्ट्रीट लाईट एडहॉक कमेटी की बैठक: फैस्टिवल सीजन में हर पार्षद को दी जाएगी 20-20 स्ट्रीट लाईटें

  • एम सेवा ऐप पर शिकायतों का आंकड़ा 500 के पार!
  • कम्पनी दो महीनों से सर्वे में ही उलझी

अनिल वर्मा
शहर में स्ट्रीट लाईट को लेकर एम सेवा ऐप पर लोगों की शिकायतें बढ़ती ही जा रही हैं मगर स्ट्रीट लाईट का ठेका लेने वाली कम्पनी ने अभी तक काम शुरु नहीं किया है। कम्पनी दो महीनों के बाद यह सर्वे तक नहीं करवा पाई कि जालन्धर में कुल कितने प्वाईंट बंद हैं तथा कितने चालू है। जबकि जालन्धर के जागरूक लोगों द्वारा स्ट्रीट लाईट संबधि एम सेवा ऐप पर 500 के करीब शिकायतें पैंडिंग है। जिन्हे ठीक नहीं किया जा रहा। कल इस मामले में स्ट्रीट लाईट एडहृॉक कमेटी की बैठक हुई जिसमें कम्पनी को तुरन्त काम शुरु करने के लिए कहा गया। वहीं फैस्टिवल सीजन को ध्यान में रखते हुए कमेटी ने फैसला किया कि हर वार्ड में 20-20 नई स्ट्रीट लाईटें दी जाएंगी जिन्हे धार्मिक स्थान तथा वार्ड के सैंस्टिव प्वाईंटों पर लगाया जाएगा।


एडहॉक कमेटी की चेयरपर्सन मनदीप कौर मुल्तानी ने कमेटी मेंबर प्रवीणा मनु व अन्य के इस प्रस्ताव पर सहमति जताई और कहा कि जल्द ही नई लाइट्स खरीदने के लिए टेंडर लगाया जाएगा।मीटिंग में शहर के लिए स्ट्रीट लाइट्स प्रोजेक्ट पर भी चर्चा की गई। प्रवीणा मनु ने कहा कि स्ट्रीट लाइट्स व्यवस्था को बेहतर करना जरूरी है, क्योंकि सर्दियों में अंधेरा जल्दी हो जाता है। मनदीप मुल्तानी ने बताया कि चारों विधानसभा हलकों में लाइटे लगाने के लिए कंपनी ने सर्वे शुरू कर दिया है। उसके बाद ग्राउंड वर्क शुरू होगा। बैठक दौरान पार्षद प्रवीणा मनु, अवतार सिंह, पार्षद परमजीत कौर बागड़ी के पति अमरीक बागड़ी और पार्षद बबीता वर्मा मौजूद रहे।