PAP फ्लाईओवर पर लगी कुसुम की बहादुरी की पेंटिंग, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की बनी ब्रैंड अम्बैस्डर

जालन्धर अनिल वर्मा
मोबाइल स्नैचरों से भिडक़र उसे काबू करने वाली 15 साल की कुसुम की बहादुरी को जिला प्रशासन ने एक बार फिर सराहा है। बुधवार को जिला प्रशासन ने कुसुम की एक ग्रैफिटी पेंटिंग रिलीज करवाई और उसे बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ मुहिम के तहत ब्रांड एंबेसेडर घोषित किया। बता दें कि जिला प्रशासन पहले कुसुम का नाम राष्ट्रीय बहादुरी पुरस्कार के लिए भेज चुका है।

डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने बताया कि पीएपी फ्लाईओवर वाली दीवारों पर कुसुम को समर्पित ग्रैफिटी की पेंटिंग करवाई गई है। इन पेंटिंग्स में कुसुम की बड़ी-बड़ी तस्वीरें बनाई गई हैं। इन पर बहादुरी की मिसाल-कुसुम लिखा गया है। उन्होंने कहा कि कुसुम दूसरी लड़कियों के लिए भी आदर्श के तौर पर उभर रही है।