जालन्धर : Republic Overseas ने 20 लाख लेकर लगावाया कैनेडा का फर्जी वीजा,युवक की सदमें से मौत

  • लोक इंसाफ पार्टी के जिला प्रधान जसबीर सिंह बग्गा ने खोला ठग ट्रैवल एजैंटों खिलाफ मोर्चा

जालन्धर अनिल वर्मा
फर्जी वीजा के मामले में जालन्धर की टैÑवल इंडस्ट्री एक बार फिर बदनाम हुई है। यहां नरिंदर सिनेमा के सामने प्रैस्टीज चैंबर में रिपब्लिक ओवरसीज़ के नाम से ट्रैवल एजैंसी चला रहे ठग ट्रैवल एजैंट ने एक युवक से 20 लाख रुपये लेकर उसका कैनेडा का फर्जी वीजा लगवा दिया। इसका खुलासा तब हुआ जब युवक विदेश जाने के लिए टैÑवल एजैंट के दफ्तर पहुंचा। वीजा फर्जी होने का युवक को इसका इतना गहरा सदमा लगा कि उसकी सदमें से ही मौत हो गई।

इस मामले में आज जालन्धर लोक इंसाफ पार्टी के जिला प्रधान जसबीर सिंह बग्गा ने पीड़ित परिवार के साथ एजीआई बिल्डिंग तथा बस स्टैंड के आसपास का दौरा कर ठग एजैंट का दफ्तर ढूंडा मगर वह दफ्तर बंद कर फरार हो चुका था। गुस्साए पीड़ित परिवार ने इस मामले में कमिशनरेट पुलिस से इंसाफ की गुहार लगाई है।

मृतक चमकौर सिंह के भाई ने कहा कि वह लुधियाना के बरमी गांव के रहने वाले हैं तथा वह दो भाई ही थे छोटे भाई चमकौर सिंह ने कैनेडा जाने की जिद की तो जमीन तथा गहने बेच 20 लाख रुपये जुटाए। प्रैस्टिज चैंबर में स्थित रिपब्लिक ओवरसीज़ के नाम से दफ्तर में गए तो उन्होने सारे दस्तावेज मांगे कुछ ही दिनों बाद वीजा अप्रूव होने की बात कहकर 10 लाख एडवांस लिए बाद में जब पासपोर्ट पर वीजा लग गया तो बाकी की रकम 10 लाख भी ले ली गई। मगर जांच में यह वीजा फर्जी निकला जिसका सदमा लगने से छोटे भाई और बाद में पिता पियारा सिंह की भी मौत हो गई।

लोक इंसाफ पार्टी के जिला प्रधान जसबीर सिंह बग्गा ने पुलिस कमिशनर जालन्धर से मांग की है कि वह जालन्धर के आधीन जितने भी ट्रैवल एजैंटी का कारोबार करते हैं तथा यहां जितना भी स्टाफ काम करता है उन सब की पुलिस वैरीफिकेशन करवाई जाए तथा ट्रैवल एजैंट को दफ्तर खोलने के साथ ही एक सिक्योरिटी बांड राशि प्रशासन के खाते में जमा रखी जाए तांकि अगर कोई एजैंट धोखाधड़ी करके भागता है तो उसकी सिक्योरिटी राशि से पीड़ित लोगों को भुगतान किया जा सके।