डोंगल में लगी सिम पर आईडिया कंपनी ने बिना पूछे चालू की वैल्यू एडेड सर्विस,बिल न भरने पर किया इंटरनेट बंद

  • कंस्यूमर फोरम ने नो ड्यूज सर्टिफिकेट देने व 2 हजार हर्जाना चुकाने का दिया आदेश।  

 

इंटरनेट चलाने के लिए डाेंगल में इस्तेमाल किए जा रहे सिम पर आइडिया कंपनी ने वैल्यु एडेड सर्विस चालू कर दी। कस्टमर केयर को बार-बार कॉल किए जाने के बावजूद हर बार इन्हें बिल में जोड़कर भेजा जाता रहा। कस्टमर ने इसके पैसे नहीं दिए तो इंटरनेट बंद कर दिया गया। मामला जिला कंज्यूमर फोरम पहुंचा तो अब आइडिया कंपनी को वैल्यु एडेड सर्विस के चार्जेस रिफंड कर नो ड्यूज सर्टिफिकेट देने व 2 हजार हर्जाना चुकाने के आदेश दिए हैं।

न्यू हरगोबिंद नगर के रहने वाले जसवंत राय सैनी ने बताया कि वह 2016 से आइडिया कंपनी का डोंगल यूज कर रहे हैं। जिसका मंथली प्लान 750 रुपए महीना है। जून 2016 में कंपनी ने उनके बिल में 70 रुपए वैल्यु एडेड सर्विस के लगा दिए, जबकि उन्होंने ऐसी किसी सर्विस के लिए अप्लाई नहीं किया था। वह इस सिम कार्ड का इस्तेमाल सिर्फ डोंगल में ही करते थे। उन्होंने कस्टमेर केयर से संपर्क किया तो कहा गया कि अगले बिल में इसे कैंसिल कर दिया जाएगा। अगले बिल में फिर उन्हें 35 रुपए का वैल्यु एडेड चार्जेस लगा दिए गए और पुराने वाले भी कैंसिल नहीं किए गए। उन्होंने कस्टमर केयर से संपर्क किया तो उन्हें वैल्यु एडेड सर्विस के 115 रुपए कैंसिल करने का भरोसा दिया गया लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन पर वैल्यु एडेड चार्जेस का 120 रुपए बकाया बताकर इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई। इसके बाद वो इंटरनेट भी यूज न कर सके लेकिन उनका 1945 रुपए का बिल बना दिया गया। इसके जवाब में कंपनी ने कहा कि इसके बारे में ई-मेल के जरिए यूजर को सर्विस चार्जेस के बारे में पूरी तरह से बताया गया था।

जिला कंज्यूमर फोरम ने कहा कि कंपनी का कहना है कि उनके उपभोक्ता ने वन-97 बाॅलीवुड अलर्ट की सेवा को शुरू किया था, लेकिन कंपनी इसके बारे में कोई पुख्ता दस्तावेज पेश न कर सकी। फोरम ने माना कि डोंगल के जरिए इस तरह की सेवा के लिए आवेदन करना संभव नहीं है क्योंकि बिना कॉल किए या कंपनी की तरफ से कॉल स्वीकार किए बिना यह संभव नहीं है। इसके बाद फोरम ने फैसला सुना दिया।