थाने से होमगार्ड लाया था पटाखों का जखीरा, घर में हुआ ब्लास्ट, 2 की मौत

अमृतसर की लव-कुश नगर नामक रिहायशी कालोनी में थाना कैंटोनमेंट से लाये गए सामान में ब्लास्ट से दो की मौत हो गई। घटना में महिला मनजीत कौर और एक ढाई साल के बच्चे अभिषेक सहित पांच लोग घायल हो गए। मरने वालों की पहचान रत्न लाल (70) और रजिंदर मोटा हलवाई (40) के तौर पर हुई है।

लोगों का कहना है यह सामान थाना कैंटोनमेंट से लाया गया था और छंटनी करते हुए धमाका हुआ। लेकिन पुलिस घटना स्थल को कबाड़िए का घर बता धमाके को ग्रेनेड से हुआ विस्फोट बता रही है, जबकि घटना के वक्त भी घर में बड़ी मात्रा में पटाखे पड़े हुए थे। ब्लास्ट में मंजीत कौर, ढाई साल की बेटी समेत 5 लोग जख्मी हो गए। जिन्हें इलाका निवासियों ने अस्पताल में पहुंचाया। घायलों ने बताया, एक बोरी खोलते हुए धागा खिंचने से धमाका हो गया। वहीं, सीएम ने मृतकों के परिवार को 2-2 लाख देने की घोषणा कर दी है।

हादसे के बाद मौके पर विलाप करते परिजन।

बाेरी खोलते ही धागा खिंचने से हुआ धमाका, 5 जख्मी

मौके पर मौजूद हन्नी ने बताया, घटना सोमवार शाम करीब 6.15 बजे घटी। घटना के वक्त वह बाहर ही था। धमाके की आवाज इतनी जोरदार थी कि एक किलोमीटर से लोग वहां पहुंच गए। तुरंत उन्होंने घर के अंदर जाकर देखा तो वहां खून बिखरा था और सभी चिल्ला रहे थे। रत्न लाल और रजिंदर की हालत पहले ही नाजुक बनी हुई थी। घायलों ने बताया, एक बोरी खोलते हुए धागा खिंचने से धमाका हो गया। लोगों का कहना है कि जिस सामान को पुलिस कबाड़ बता रही है, वह थाना कैंटोनमेंट से लाया गया था। थाने के सामान में ही यह ब्लास्ट हुआ है।

अमृतसर की लव-कुश नगर नामक रिहायशी कालोनी में थाना कैंटोनमेंट से लाये गए सामान में ब्लास्ट से दो की मौत हो गई। घटना में महिला मनजीत कौर और एक ढाई साल के बच्चे अभिषेक सहित पांच लोग घायल हो गए। मरने वालों की पहचान रत्न लाल (70) और रजिंदर मोटा हलवाई (40) के तौर पर हुई है।

लोगों का कहना है यह सामान थाना कैंटोनमेंट से लाया गया था और छंटनी करते हुए धमाका हुआ। लेकिन पुलिस घटना स्थल को कबाड़िए का घर बता धमाके को ग्रेनेड से हुआ विस्फोट बता रही है, जबकि घटना के वक्त भी घर में बड़ी मात्रा में पटाखे पड़े हुए थे। ब्लास्ट में मंजीत कौर, ढाई साल की बेटी समेत 5 लोग जख्मी हो गए। जिन्हें इलाका निवासियों ने अस्पताल में पहुंचाया। घायलों ने बताया, एक बोरी खोलते हुए धागा खिंचने से धमाका हो गया। वहीं, सीएम ने मृतकों के परिवार को 2-2 लाख देने की घोषणा कर दी है।

बाेरी खोलते ही धागा खिंचने से हुआ धमाका, 5 जख्मी

मौके पर मौजूद हन्नी ने बताया, घटना सोमवार शाम करीब 6.15 बजे घटी। घटना के वक्त वह बाहर ही था। धमाके की आवाज इतनी जोरदार थी कि एक किलोमीटर से लोग वहां पहुंच गए। तुरंत उन्होंने घर के अंदर जाकर देखा तो वहां खून बिखरा था और सभी चिल्ला रहे थे। रत्न लाल और रजिंदर की हालत पहले ही नाजुक बनी हुई थी। घायलों ने बताया, एक बोरी खोलते हुए धागा खिंचने से धमाका हो गया। लोगों का कहना है कि जिस सामान को पुलिस कबाड़ बता रही है, वह थाना कैंटोनमेंट से लाया गया था। थाने के सामान में ही यह ब्लास्ट हुआ है।

गुरनाम घर लाया था थाने में पड़ा सामान
पिछले कुछ दिनों से होमगार्ड का जवान गुरनाम थाने की साफ सफाई में लगा था और उसी ने ही थाने से पटाखों का जखीरा लाकर मनजीत कौर के घर में रखा था। उसी सामान की साफ सफाई के दौरान धमाका हुआ। लोगों का कहना है कि वहां पुलिस गाड़ियां आईं, बिखरी फाइलें लेकर और घटनास्थल से सुराग मिटाकर चली गईं। 

पुलिस मुकरी, नहीं है थाने का सामान 
डीसीपी ला एंड आर्डर जगमोहन सिंह अनुसार सामान थाने से नहीं आया। यहां कबाड़ का सामान इकट्ठा होता था और उसी में धमाका हुआ है। धमाका किसका था और कैसे हुआ, फोरेंसिक की रिपोर्ट में क्लीयर हो जाएगा। घटनास्थल पर पुलिस कमिश्नर डॉ. सुखचैन सिंह गिल, डीसीपी जगमोहन सिंह भी पहुंचे।

अमृतसर की लव-कुश नगर नामक रिहायशी कालोनी में थाना कैंटोनमेंट से लाये गए सामान में ब्लास्ट से दो की मौत हो गई। घटना में महिला मनजीत कौर और एक ढाई साल के बच्चे अभिषेक सहित पांच लोग घायल हो गए। मरने वालों की पहचान रत्न लाल (70) और रजिंदर मोटा हलवाई (40) के तौर पर हुई है।

लोगों का कहना है यह सामान थाना कैंटोनमेंट से लाया गया था और छंटनी करते हुए धमाका हुआ। लेकिन पुलिस घटना स्थल को कबाड़िए का घर बता धमाके को ग्रेनेड से हुआ विस्फोट बता रही है, जबकि घटना के वक्त भी घर में बड़ी मात्रा में पटाखे पड़े हुए थे। ब्लास्ट में मंजीत कौर, ढाई साल की बेटी समेत 5 लोग जख्मी हो गए। जिन्हें इलाका निवासियों ने अस्पताल में पहुंचाया। घायलों ने बताया, एक बोरी खोलते हुए धागा खिंचने से धमाका हो गया। वहीं, सीएम ने मृतकों के परिवार को 2-2 लाख देने की घोषणा कर दी है।

बाेरी खोलते ही धागा खिंचने से हुआ धमाका, 5 जख्मी

मौके पर मौजूद हन्नी ने बताया, घटना सोमवार शाम करीब 6.15 बजे घटी। घटना के वक्त वह बाहर ही था। धमाके की आवाज इतनी जोरदार थी कि एक किलोमीटर से लोग वहां पहुंच गए। तुरंत उन्होंने घर के अंदर जाकर देखा तो वहां खून बिखरा था और सभी चिल्ला रहे थे। रत्न लाल और रजिंदर की हालत पहले ही नाजुक बनी हुई थी। घायलों ने बताया, एक बोरी खोलते हुए धागा खिंचने से धमाका हो गया। लोगों का कहना है कि जिस सामान को पुलिस कबाड़ बता रही है, वह थाना कैंटोनमेंट से लाया गया था। थाने के सामान में ही यह ब्लास्ट हुआ है।

गुरनाम घर लाया था थाने में पड़ा सामान
पिछले कुछ दिनों से होमगार्ड का जवान गुरनाम थाने की साफ सफाई में लगा था और उसी ने ही थाने से पटाखों का जखीरा लाकर मनजीत कौर के घर में रखा था। उसी सामान की साफ सफाई के दौरान धमाका हुआ। लोगों का कहना है कि वहां पुलिस गाड़ियां आईं, बिखरी फाइलें लेकर और घटनास्थल से सुराग मिटाकर चली गईं। 

पुलिस मुकरी, नहीं है थाने का सामान 
डीसीपी ला एंड आर्डर जगमोहन सिंह अनुसार सामान थाने से नहीं आया। यहां कबाड़ का सामान इकट्ठा होता था और उसी में धमाका हुआ है। धमाका किसका था और कैसे हुआ, फोरेंसिक की रिपोर्ट में क्लीयर हो जाएगा। घटनास्थल पर पुलिस कमिश्नर डॉ. सुखचैन सिंह गिल, डीसीपी जगमोहन सिंह भी पहुंचे।

गुरनाम घर लाया था थाने में पड़ा सामान
पिछले कुछ दिनों से होमगार्ड का जवान गुरनाम थाने की साफ सफाई में लगा था और उसी ने ही थाने से पटाखों का जखीरा लाकर मनजीत कौर के घर में रखा था। उसी सामान की साफ सफाई के दौरान धमाका हुआ। लोगों का कहना है कि वहां पुलिस गाड़ियां आईं, बिखरी फाइलें लेकर और घटनास्थल से सुराग मिटाकर चली गईं। 

पुलिस मुकरी, नहीं है थाने का सामान 
डीसीपी ला एंड आर्डर जगमोहन सिंह अनुसार सामान थाने से नहीं आया। यहां कबाड़ का सामान इकट्ठा होता था और उसी में धमाका हुआ है। धमाका किसका था और कैसे हुआ, फोरेंसिक की रिपोर्ट में क्लीयर हो जाएगा। घटनास्थल पर पुलिस कमिश्नर डॉ. सुखचैन सिंह गिल, डीसीपी जगमोहन सिंह भी पहुंचे।