टिड्डी दल के हमले को लेकर पंजाब के इन जिलों में हाईअलर्ट जारी

  पंजाब में टिड्डी दल का खतरा फिर से मंडराने लगा है। पहले भी पंजाब के कई जिलों में कहर बरसा चुका ये टिड्डी दल फिर से दस्तक दे सकता है। फूड एंड एग्रीकल्चर ऑर्गनाइजेशन (FAO) ने चेतावनी दी है कि पाकिस्तान और राजस्थान में टिड्डी दल पंजाब के साथ आने वाले तीन दिनों में हवा की दिशा के साथ प्रवेश कर सकते है। पंजाब, हरियाणा और राजस्थान को 1 से 6 अगस्त के बीच हमले की स्थिति की चेतावनी जारी की गई है
PunjabKesari

इन जिलों को हो सकता है खतरा 

फिरोजपुर जिले को खतरे की सूची में सबसे पहले रखा गया है, जबकि जालंधर, कपूरथला, मानसा, मोगा और तरनतारन जिले में टिड्डी हमले की खतरे की सूची में हैं, जो सब्जियों, फसलों और फलों को सबसे अधिक नुकसान पहुंचा सकता हैं। इसी के साथ अमृतसर, फाजिल्का, लुधियाना, संगरूर, फरीदकोट, मुक्तसर, बठिंडा और बरनाला के जिला प्रशासन को अलर्ट रहने की सलाह दी गई है।

पंजाब को इसलिए ज्यादा खतरा
रीजनल रिमोट सेंसिंग सेंटर ने भी पंजाब को खतरे की सूची मे दाल दिया है। पाकिस्तान और राजस्थान सीमा से सटे होने के कारण इनका खतरा पंजाब को भी है। फाजिल्का जिले में पहले भी कई गांवों में टिड्डियों को देखा भी गया है, लेकिन जितना यहां देखा गया है, यह किसी बड़े झुंड से टूटा हुआ हिस्सा ही है। पंजाब सरकार ने फरीदकोट, फाजिल्का व बठिंडा में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।