गैंगस्टर ने ली डेरा प्रेमी की हत्या की जिम्मेदारी : सुखा गिल ने फेसबुक पर लिखा-गुरु ग्रंथ की बेअदबी करने वालों का यही हाल होगा

रोज़ाना पोस्ट 

बठिंडा के कस्बा भगता भाई का में डेरा प्रेमी मनोहर लाल की हत्या के मामले में शनिवार को मोड़ आया है। गैंगस्टर सुक्खा गिल लम्मे ने फेसबुक पर एक पोस्ट डालकर इस हत्याकांड की जिम्मेदारी ली है। पोस्ट में लिखा कि उनके ग्रुप को ऐसे काम के लिए किसी की अनुमति की जरूरत नहीं है। उसने लिखा कि जो भी श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की बेअदबी करेगा, उसके साथ ऐसा ही होगा। डेरा प्रेमी की हत्या किसी के कहने पर नहीं की, जो ठीक लगा वो किया और आगे भी कुछ लोगों के नंबर लगने है, वो भी लगाएंगे। पोस्ट के अंत में लिखा कि सुखा भाई ने अपने सभी नंबर बदल लिया है, क्योंकि एक समूह उनके नाम से फिरौती मांगता था। फिलहाल पुलिस पोस्ट के जरिए आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास कर रही है। उधर, डेरा सलाबतपुरा के पास परिजनों ने शव के साथ रोड जाम कर दिया। इनका कहना है कि जब आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो जाती, तब तक अंतिम संस्कार नहींं किया जाएगा।

बता दें कि 2015 में बेअदबी मामले के मुख्य आरोपियों में शामिल जतिंदरबीर जिम्मी के पिता व डेरा सच्चा सौदा सिरसा की 25 सदस्यीय कमेटी के सदस्य डेरा प्रेमी मनोहर लाल अरोड़ा की भगता भाई का इलाके में मनी एक्सचेंज की दुकान है। शुक्रवार दोपहर 3.36 बजे मुंह ढके कुछ युवक दुकान पर पहुंचे। इसके बाद बैग से कुछ सामान निकालने के बहाने मात्र 36 सेकंड में 3 पिस्टल से 3 फायर करके दुकान के संचालक मनोहर लाल की हत्या कर दी। मनोहर लाल के सिर पर और छाती में एक-एक गोली लगने के चलते डेढ़ घंटे बाद उनकी मौत हो गई।

शनिवार को मनोहर लाल का पोस्टमॉर्टम करवाया गया, वहीं इस मामले में उस वक्त नया मोड़ आ गया, जब बदमाशों के एक गिरोह ने इस हत्याकांड की जिम्मेदारी ले ली। सूत्रों ने बताया कि पिछले कुछ समय से सुखा गिल लम्मे गैंगस्टर का गैंग सरगर्म चल रहा है। सुक्खा गैंगस्टर ग्रुप को मोगा से चला रहा है। कुछ समय पहले मोगा में स्थित एक शोरूम मालिक की हत्या इसी गैंग ने की थी। इस हत्या में गोली चलाने वाला हरजिंदर सिंह था। इसका जिक्र डेरा प्रेमी की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाली पोस्ट में किया गया है।