पंजाब में होटल इंडस्ट्री का कारोबार पटरी पर लाने के लिए वित्त मंत्री ने दिया आश्वासन-परमजीत सिंह

अनिल वर्मा

अनलॉक 5 की गाइड लाइन लागू होने के बाद भी पंजाब में होटल व रेस्तरां का कारोबार पटरी पर आने का नाम नहीं ले रहा है। होटल व रेस्तरां का खर्चा ना निकलने की वजह से स्टाफ तीस फीसद कर दिया है। होटल व रेस्तरां को राज्य सरकार की ओर से बार खोले जाने के नॉटिफिकेशन का इंतजार है। बार खुल जाते है तो कारोबार पटरी पर आ सकता है। बार खोलने का समय रात 11 बजे तक होना चाहिए ताकि लोग होटल व रेस्तरां तरफ रुख कर सकते है।

बार जल्द खोले जाने को लेकर होटल एंड रेस्तरां एसोसिएशन आफ पंजाब के चीफ पैटर्न परमजीत सिंह, प्रधान अमरवीर सिंह राज्य के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल से मिले थे। चीफ पैटर्न परमजीत सिंह ने वित्त मंत्री समक्ष मांग रखी थी कि होटल व रेस्तरां के बार रात 11 बजे तक खोले जाए ताकि कारोबार पटरी पर आ सकें।

लाकडाउन के दौरान होटल व रेस्तरां का कारोबार बीस फीसद के करीब रह गया था। लोग कोरोना के डर के साथ-साथ समय कम होने की वजह से रुख नहीं कर रहे है। होटल-रेस्तरां सेहत विभाग की हिदायतों की पालना कर रहे है। उन्होंने कहा कि बार खोले संबंधी वित्त मंत्री से आश्वासन दिया था कि पांच अक्तूबर को नाटिफिकेशन जारी कर दी जाएगी। फिलहाल होटल व रेस्तरां संचालक नाटिफिकेशन का इंतजार कर रहे है।