नगर निगम में दी कोरोना ने फिर दस्तक, 2 अधिकारियों की रिपोर्ट पोस्टिव, आधा दर्जन से ज्यादा कर्मचारियों की हालत बिगड़ी, हुए घर में क्वॉरेंटाइन

  • सिर्फ जरूरी काम के लिए आने वाले एक व्यक्ति की ही होगी बिल्डिंग में एंट्री
  • सेहत विभाग किसी भी वक्त ले सकता है यहां कोरोना टैस्ट के लिए सैंपल

अनिल वर्मा

नगर निगम में अधिकारियों की लापरवाही के कारण एक बार फिर करोना ने यहाँ दस्तक दी है बिल्डिंग इस्पेक्टर पॉल परनीत सिंह तथा एटीपी विनोद कुमार की कोरोना रिपोर्ट कल पोस्टिंव आ गई है इसी के साथ आधा दर्जन से ज्यादा कर्मचारियों की हालत बिगड़ी हुई है जो कि कुछ दिनों से दफ्तर नहीं आ रहे तथा घरों में ही अपना इलाज करवा रहे हैं।

यहां डर का माहौल इस कदर बन चुका है कि कुछ कर्मचारी कल खुद ही छुट्टी लेकर घर चले गए। उधर इस मामले मे सेहत विभाग में भी हलचल शुरू हो गई है जानकारी के अनुसार सेहत विभाग जल्द ही नगर निगम में दस्तक देकर यहां के सभी विभागों में काम कर रहे कर्मचारी तथा अधिकारियों के कोरोना टैस्ट के लिए सैम्पल ले सकता है ताकि समय रहते बचाव किया जा सके।

वहीं इस मामले में रोजाना पोस्ट में खबर प्रकाशित होने के बाद नगर निगम कमिश्नर द्वारा सख्ती और बढ़ा दी गई है तथा किसी भी फालतू काम से नगर निगम आने वाले व्यक्तियों पर पूर्ण रूप से पाबंदी लगा दी गई है अगर किसी को कोई बहुत जरूरी काम है तो वह अकेला ही बिल्डिंग में दाखिल हो सकता है उसके साथ कोई भी सहयोगी नहीं जा सकता

दूसरी तरफ दफ्तरों में बैठकर पब्लिक डीलिंग कर रहे कर्मचारियों ने भी अब हाथ खड़े करने शुरू कर दिए हैं उनका कहना है कि कुछ दिनों के लिए पब्लिक डीलिंग बंद की जानी चाहिए या फिर ड्यूटी को रोटेशन वाइस किया जाना चाहिए तथा हर दिन दफ्तर बंद होने के बाद सैनिटाइजर करवाया जाए ताकि अगर कोई संक्रमित व्यक्ति आता है तो उसके रोगाणुओं को सैनिटाइजर द्वारा खत्म किया जा सके।