शराब माफिया, भ्रष्टाचार और घोटालो के खिलाफ भाजपा द्वारा आवाज उठाने से बौखलाई कैप्टन सरकार

  • दौगली निती से काम कर रही पुलिस, बदले की मंशा से पुलिस कर रही पर्चे दर्ज- सुशील शर्मा

अनिल वर्मा
कैप्टन अमरिंदर व प्रदेश की कांग्रेस सरकार के इशारे पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा सहित अन्य भाजपा नेताओं पर पुलिस द्वारा दर्ज किये गए मामलों पर कांग्रेस सरकार को आड़े हाथों लेते हुए भाजपा जालंधर शहरी के अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह व उनकी कांग्रेस सरकार बौखला चुकी है, तभी तो ऐसी ओछी राजनीती पर उतर आई है अपने घरों में बैठ कर चार लोगों के साथ बातचीत करने वालों पर भी पुलिस अपने राजनितिक आकाओं को खुश करने के चक्कर में मामले दर्ज कर रही है।
Delhi Assembly Election 2020: BJP Likely to Release Candidates' Name Today
सुशील शर्मा ने कहा कि भाजपा द्वारा पंजाब में जहरीली शराब से हुई मासूम लोगों की मौतों, प्रदेश में लॉक-डाउन के दौरान नाजायज शराब की हुई बिक्री तथा प्रदेश के राजस्व को हुए 5600 करोड़ रूपये के घाटे, केंद्र सरकार द्वारा पंजाब की गरीब व जरूरतमंद जनता के लिए भेजे गए राशन में कांग्रेसियों द्वारा किये गए छात्रवृति घोटालों, जहरीली शराब, रेत माफिया, माइनिंग घोटाले, केंद्र द्वारा भेजे गए राशन घोटाले, पी.पी.ई. किट घोटाले तथा जनता को कोविड-19 के दौरान कांग्रेस सरकार द्वारा दी गई बदहाल स्वास्थ्य सुविधाओं के विरुद्ध आवाज उठाने पर कैप्टन अमरिंदर सिंह तथा कांग्रेसी नेताओं ने राजनीतिक द्वेष के कारण बदले की भावना से कांग्रेस सरकार के इशारे पर पुलिस ने भाजपा नेताओं पर मामले दर्ज किये हैं।

हरियाणा: लॉकडाउन में 'पुलिस' ने किया शराब घोटाला, गृह मंत्री ने दिए एफआईआर  के आदेश - haryana police did liquor scam in lockdown

जिला अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहाकि कांग्रेसी नेताओं के लिए पंजाब की कांग्रेस सरकार के नियम व कानून अलग हैं और विपक्ष व जनता के लिए अलग ढ्ढ उन्होंने कहाकि कांग्रेस के नेता उद्धघाटन करें या कोई सभा करें तो उन पर कोई मामला दर्ज नहीं किया जाता और अगर विपक्ष के नेता अपने कार्यकर्ताओं से उनके घर मिलने जाते हैं या वहां बैठ कर बातचीत करते हैं तो उन पर वहां के कांग्रेसी नेता के इशारे पर मामला दर्ज कर दिया जाता है ढ्ढ शर्मा ने कहाकि अगर आम जनता या विपक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह या कांग्रेस सरकार के खिलाफ आवाज उठाता है, तो उसके खिलाफ वहां के कांग्रेसी नेताओं के इशारे पर मामला दर्ज कर उसे मानसिक या शारीरिक रूप से प्रताडि़त किया जाता है। पिछले कुछ महीनों में प्रदेश में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं।

What are the laws to deal with false FIR?

शर्मा ने कहाकि कांग्रेस की कैप्टन सरकार की ऐसी निम्न स्तर की राजनीति से भाजपा का कार्यकर्ता न रुकेगा न झुकेगा और पंजाब व पंजाबियत के हितों के लिए जनता की आवाज को बुलंद करते हुए कांग्रेस सरकार के खिलाफ भाजपा के संघर्ष निरंतर जारी रहेगे ढ्ढ शर्मा ने कहाकि अब कांग्रेसियों की यह गुंडागर्दी ज्यादा दिनों तक नहीं चलेगी, क्यूंकि जनता अब कांग्रेस के कारनामों के बारे बहुत अच्छी तरह से जान चुकी है और आने वाले चुनाव में इसका जवाब देने की तैयारी कर चुकी है ढ्ढ इस प्रेस वार्ता में मुख्य रूप से उपस्थित पूर्व कैबिनेट मंत्री, मनोरंजन कालिया, पूर्व विधायक, कृष्णदेव भंडारी, प्रदेश प्रवक्ता, महेंद्र भगत, पूर्व मेयर सुनील ज्योति, जिला महामंत्री, भगवंत प्रभाकर,उपस्थित थे