जालन्धर मोबाईल विंग की बड़ी कारवाई: दो ट्रांस्पोर्टरों के खिलाफ संगीन धाराओं के तहत FIR दर्ज

  • गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी: थाना प्रभारी

जालन्धर अनिल वर्मा
रेलवे तथा ट्रकों के जरिए बड़े लैवल पर बिना बिल का माल जालन्धर पहुंच रहा है जिसे पकड़ने के लिए मोबाईल विंग की टीमें लगातार बड़े लैवल पर माल जब्त कर रही हैं मगर मोबाईल विंग की सख्ती से बिना बिल का माल मंगवाने वाले कई ट्रांस्पोर्टर बौखला गए हैं जिसके चलते कई बार ट्रांस्पोर्टरों तथा उनके कारिंदों ने सरकारी कारवाई रोकने के लिए खलल डालने की भी कोशिशें की मगर अब मोबाईल विंग ऐसी हरकतें करने वालों के खिलाफ सख्त रुख अपना चुका है।

 

मोबाईल विंग जालन्धर के राज कर अधिकारी रुद्रमनी शर्मा तथा अमन गुप्ता ने एक सूचना के आधार पर 2 फरवरी वाले दिन टांडा रोड पर जा रहे एक टैंपू को रोका जिसमें दर्जनों पार्सल लोड किए गए थे जब जांच के लिए ड्राईवर से बिल मांगे गए और माल चैक करना शुरु किया तो मौके पर रवि कूपर तथा रूबी पहुंच गए और ड्यूटी दे रहे दोनो अफसरों के साथ बहसबाजी करनी शुरु कर दी और माल छोड़ने के लिए कहा गया। बहस इस कदर बड़ गई कि रवि कपूर तथा रूबी ने सरकारी मुलाजिम रुद्रमनी शर्मा तथा अमन गुप्ता को धमकी दी कि अगर वह उन्हे परेशान करेंगे तो तुन्हें भी उसी तरह सैट करेंगे जिस तरह पूर्व मुलाजिम सुखविंदर सिंह तथा मंजीत सिंह का शिकायतें डाल कर किया था।

 

इसी विवाद के बाद रवि कूपर तथा रूबी  मौके से टैंपू भगाकर ले गए जिसमें कई पार्सल लोड किए हुए थे जबकि 7 नगों को विभाग के अधिकारियों ने जब्त कर लिया था। इस घटना के बाद दोनो मुलाजिमों ने पुलिस कमिशनर गुरप्रीत सिंह भुल्लर को रवि कूपर तथा रूबी के खिलाफ मामला दर्ज करने की शिकायत सौंपी। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रवि कपूर तथा रूबी  दोनो ही लंबे समय से बड़े लैवल पर बिना बिल का माल मंगवाने का “धंधा” करते हैं तथा माल पकड़े जाने के बाद अक्सर सरकारी मुलाजिमों के साथ विवाद करते हैं। फिलहाल थाना 3 के प्रभारी मुकेश कुमार ने कहा कि दोनों के खिलाफ धारा 353 तथा 184 के तहत मामला दर्ज कर लिया है तथा दोनो की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।