Latest news

लोकसभा चुनाव से पहले कैप्टन ने टीचरों के लिया खोला खज़ाना , पड़े यह फैसले



कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सरकार ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर बड़ा फैसला किया है। बुधवार को कैबिनेट की बैठक में बड़े फैसले किए। कैबिनेट ने 5178 शिक्षकों को पूर्ण वेतनमान के साथ उनकी सेवाओं को नियमित कर दिया है। इसके साथ ही नर्सों को भी नियमित करने का भी फैसला किया है।

कैबिनेट ने पिछले दिनों हड़ताल कर सरकार के लिए परेशानी खड़ी करने वाली नर्सों को नियमित करने का बड़ा फैसला किया। बुधवार को मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में 650 नर्सों की सेवाएं नियमित करने का फैसला लिया गया। लेकिन, ये नर्सें तीन साल के प्रोवेशन में रहेंगी। इस दौरान उन्हें सरकार के नियम अनुसार बेसिक तनख्वाह ही मिलेगी।

मंत्रिमंडल ने शिक्षा विभाग द्वारा भर्ती किए गए 5178 शिक्षकों की सेवा नियमित करने को मंजूरी दी। इसमें 1 अक्टूबर 2019 ले पूर्ण वेतनमान मिलेगा। इन शिक्षकों का प्रोवेशन पीरियड भी कैबिनेट ने एक साल कम कर दिया है। नियमानुसार इन शिक्षकों का प्रोवेशन पीरियड 30 सितंबर 2020 में पूरा होना था। इन शिक्षकों को वर्तमान में 7500  रुपये प्रति माह का भुगतान किया जाता है। अब उनका न्यूनतम ग्रेड पे 15,300  प्रतिमाह तय किया जाएगा, जब तक कि उन्हें पूर्ण वेतन नहीं दिया जाता।