स्टेट इलेक्शन कमेटी की मीटिंग के बाद होगा टिकटों का बंटवाराः वेरका

रोज़ाना पोस्ट 

दिल्ली में किसान आंदोलन के बावजूद कांग्रेस के चुनाव करवाए जा रहे हैं। इस बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए राजकुमार वेरका ने प्रैंस कांफ्रेस के दौरान कहा कि नगर पंचायत नेशनल काउंसिल के चुनाव को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता था। पंजाब सरकार ने कानूनी माहिरों की राय लेने के बाद चुनावों की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन के कारण अगर जरूरत पड़ी तो चुनाव कराने के फैसले को रिव्यू किया जा सकता है। 

 

उन्होंने बताया कि 18 जनवरी को स्टेट इलेक्शन कमेटी की मीटिंग होने के बाद 1 सप्ताह में टिकटों का बंटवारा हो जाएगा, जिसमें 50 प्रतिशत महिलाओं का रिजर्वेशन होगा और 30 प्रतिशत यूथ को टिकटें दी जाएंगी। इस मीटिंग में मोहिंदर सिंह के.पी., विधायक सुरेंद्र चौधरी, इंप्रूवमेंट ट्रस्ट करतारपुर के चेयरमैन राणा रंधावा, प्रदेश कांग्रेस के सचिव मनोज अग्रवाल सहित अन्य गणमान्य भी उपस्थित थे।