Latest news

फिल्‍म एक्‍टर राहुल बोस के ट्वीट का बड़ा असर, दो केले के 442 रुपये वसूलने पर होटल को नोटिस



 शहर के एक नामी हाेटल द्वारा फिल्‍म अभिनेता राहुल बोस से दो केले के लिए 442.50 रुपये वसूलने के मामले ने तूल पकड़ मिला है। पूरा मामला अब होटल पर भारी पड़ता दिख रहा है। प्रशासन ने राहुल बोस के ट्वीट के बाद इस मामले को गंभीरता से लिया है और होटल को नोटिस जारी किया है। होटल में जांच भी की गई है। पूरे मामले में होटल को 67.50 रुपये टैक्स वसूलना महंगा पड़ सकता है।

डीसी मनदीप सिंह बराड़ ने असिस्टेंट एक्साइज एंड टैक्सेशन कमिश्नर आरके चाैधरी के नेतृत्व में इस पूरे मामले की जांच के लिए टीम गठित की है। जिसमें एईटीसी के साथ दो ईटीओ आरएल चुग और अरुण धीर शामिल हैं। एईटीसी आरके चौधरी ने बताया कि जेडब्ल्यू होटल मैनेजमेंट में इस पूरे मामले में जांच की गई है।
होटल में चेकिंग के दौरान एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट के अफसरों ने बिल व अन्य रिकॉर्ड भी जब्त किए हैं। एईटीसी ने बताया कि जेडब्ल्यू मैरिएट होटल को शोकॉज नोटिस भेज दिया गया है। होटल मैनेजमेंट को इस पूरे मामले में शुक्रवार शाम तक अपना जवाब देने के लिए कहा है। जिसके बाद होटल प्रबंधन पर जीएसटी कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी। 

एईटीसी आरके चौधरी ने बताया कि जीएसटी कानून के मुताबिक कोई भी होटल फ्रूट पर टैक्स वसूल नहीं कर सकता है। अभिनेता राहुल बोस से जेडब्ल्यू मैरिएट होटल ने  दो केलों के लिए कुल 442.50 रुपए वसूल किए थे। इसमें 67.50 रुपए जीएसटी (टैक्स) के रूप में वसूल किया गया था। बता दें अभिनेता राहुल बोस ने हाल ही में ट्वीट कर चंडीगढ़ के सेक्‍टर 35 स्थित जेडब्ल्यू मैरिएट होटल के दो केलों के रेट पर सवाल उठाया था।

अभिनेता राहुल बोस के ट्वीट पर यह वीडियो पोस्ट काफी ट्रोल हुआ। उन्होंने  इस पोस्ट में बताया कि उनसे दो केलों के लिए जेडब्ल्यू मैरिएट होटल ने 442.50 रुपये वसूल किए हैं। अभिनेता राहुल बोस 22 जुलाई को सेक्‍टर 35 स्थित होटल जेडब्ल्यू मैरिएट में ठहरे थे। जिम में पसीना बहाने के बाद, उन्होंने रूम सर्विस को दो केले का ऑर्डर दिया। जब उनके पास बिल आया तो वह हैरान रह गए, क्योंकि दो केलों का बिल 442 रुपये का था। 

होटल जेडब्ल्यू मैरिएट के प्रवक्ता ने कहा कि होटल में प्लैटर का रेट 350 रुपये प्लस टैक्स है। हम कभी कोई फ्रूट लूज में नहीं देते। राहुल ने ये ऑर्डर अपने रूम में मंगवाया। ऐसे में इसके अलग चार्जेस होते हैं। ये चार्जेस कम होते, अगर वह इन्हें होटल के रेस्टोरेंट या कैफे में खाने आते। प्रवक्ता का कहना था कि  प्लेटर में एपल, कीवी और अन्य सीजनल फ्रूट देते हैं। ऐसे में अगर कोई इनमें से एक भी फ्रूट मंगवाता है, तो उसे पूरे प्लेटर का ही रेट देना पड़ता है।। हमारे रूम मैन्यू और रेस्टोरेंट मैन्यू के रेट अलग-अलग हैं। 

” हमने जेडब्ल्यू मैरिएट होटल मैनेजमेंट को शोकॉज नोटिस कर दिया है, उनसे शुक्रवार शाम तक इस मामले में जवाब मांगा गया है, वीरवार को डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने होटल में चेकिंग की। इस दौरान होटल से कुछ बिल और रिकॉर्ड जब्त किए गए हैं, होटल मैनेजमेंट का जवाब आने के बाद जीएसटी कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।