Latest news

जालन्धर के इस वकील ने लगावाया एससी कमीशन पंजाब के चेयरमैन को जुर्माना..तथा इनके खिलाफ अनुशासनिक कारवाई करने..



रोजाना पोस्ट अनिल वर्मा
जालन्धर के प्रसिद्ध वकील राजू अम्बेडकर द्वारा अप्रैल 2018 में एससी कमीशन पंजाब में एक आरटीआई दायर की तथा कई अहम जानकारी मांगी। मगर एससी कमीशन द्वारा कोई भी जानकारी नहीं दी गई। मामला राज्य सूचना आयोग के पास पहुचने के बाद दिनांक 19/11/2018 को अपील केस 2216/2018 की सुनवाई के बाद राज्य सूचना कमीशनर  प्रीति चावला ने एससी कमीशन को सूचना न देने के चलते 2000 रुपये जुर्माना तथा जन सूचना अधिकारी खिलाफ आरटीआई एक्ट 2005 की धारा 20 के तहत अनुशानिक कार्यवाही करने के आदेश जारी किए हैं।


इस मामले में जानकारी देते हुए युवा वकील एसोसिएशन के प्रधान संजय जांगड़ा तथा एडवोकेट राजू अम्बेडकर ने बताया कि मामले संबंधि एससी कमिशन के चेयरमैन को पेश होने के लिए समन जारी किए हुए थे मगर वह नहीं आए और अपनी कलर्क जसविंदर कौर को भेज दिया। राजू अम्बेडकर ने कहा कि आरटीआई के माध्यम से 7 सवाल पूछे थे जिसमें

  1. एससी कमीशन के पास पिछले दस सालों दौरान पहुंची शिकायतों की गिनती,
  2. शिकायतें करने वाली  कितनी महिलाएं, पुरुष, सीनियर सिटीजन एवं एससी/बीसी हैं?
  3. पिछले दस सालों दौरान कितनी शिकायतों का निपटारा किया गया?
  4. एससी कमिशन में कुल कितने मुलाजिम काम करते हैं तथा उनकी सैलरी क्या है?
  5. एससी कमिशन में शिकायत का निपटारा करने का क्या तरीका है?
  6. कम से कम और ज्यादा से ज्यादा कितने समय में एक शिकायत का निपटारा कर दिया जाता है?
  7. कमिशन में आई शिकायतों की जांच करने के लिए कितने अधिकारी है उनके नाम बताए जाएं?